scorecardresearch
 

Prayagraj: अतीक अहमद के घर पर फिर चला 'बाबा का बुलडोजर', ढहा दिया अवैध निर्माण

UP News: यूपी के प्रयागराज के चकिया इलाके में स्थित माफिया डॉन अतीक अहमद के घर पर प्रशासन का बुलडोजर चला है. पीडीए ने अतीक अहमद के अवैध निर्माण को जमींदोज कर दिया है.

X
अतीक अहमद (फाइल फोटो) अतीक अहमद (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अतीक अहमद के अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर
  • चुनाव के चलते अब तक रुकी हुई थी कार्रवाई

UP News: योगी आदित्यनाथ के दोबारा सत्ता में आते ही अतिक्रमण माफिया पर उनका एक्शन शुरू हो गया. योगी सरकार 2.0 में माफिया के अवैध निर्माण पर 'बाबा का बुलडोजर' जबरदस्त प्रहार कर रहा है. ताजा मामला प्रयागराज का है जहां अतीक अहमद के अवैध निर्माण पर बुलडोजर चला है.

दरअसल, बीते साल अतीक अहमद के प्रयागराज स्थित आवास को जमींदोज किया गया था. जिस पर दोबारा अवैध निर्माण होने की सूचना प्रयागराज विकास प्राधिकरण (पीडीए) को काफी दिन पहले मिली थी. चुनाव के चलते इस अवैध निर्माण पीडीए की कार्रवाई अबत क रूकी हुई थी. अब पीडीए ने अपनी कार्रवाई को अंजाम देते हुए अतीक अहमद के चकिया आवास की बाउंड्री, टीम शेड के स्ट्रक्चर और शौचालय को  ढहा दिया. 

प्रयागराज विकास प्राधिकरण (पीडीए) के अधिकारी दलबल के साथ चकिया पहुंचे और आदेश मिलते ही जेसीबी दास्ते ने अतीक अहमद के चकिया स्थित निवास पर अपनी कार्रवाई को अंजाम दिया. जेसीबी ने पूरे अवैध निर्माण को तहस-नहस कर दिया. आरोप है कि यहां बगैर पीडीए से स्वीकृत अवैध बाउंड्रीवॉल का निर्माण किया गया था. इस दौरान मौके पर भारी संख्या में पुलिस और पीडीए के अधिकारी मौजूद रहे. बता दें कि पिछले साल भी पीडीए ने यहां अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई की थी.

इस कार्रवाई के दौरान मौजूद अधिकारी ने बताया कि अपने रसूख का इस्तेमाल करते हुए एक बड़े क्षेत्रफल में अवैध निर्माण किया गया था. जिसका पहले डिमोलिशन किया गया था. इलेक्शन के दौरान पता चला कि यहां पर कुछ अवैध निर्माण का कार्य चल रहा है. इसके बाद जोनल अधिकारी ने जांच कर्रवाई, तो सूचना सही पाई गई. इसलिए आज फिर कार्रवाई को अंजाम दिया गया.

गौरतलब है कि प्रयागराज का बाहुबली अतीक अहमद गुजरात के अहमदाबाद की साबरमती सेंट्रल जेल में बंद है. अभी हाल ही में अतीक की होली मनाते तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई थीं जिनके साथ यह दावा किया गया था कि ये तस्वीरें साबरमती सेंट्रल जेल की हैं. इसके बाद साबरमती सेंट्रल जेल प्रशासन ने इन तस्वीरों को लेकर बयान जारी कर इनके जेल के अंदर का होने के दावों का खंडन किया था. जेल प्रशासन की ओर से ये भी कहा गया कि अतीक अहमद 24 घंटे पुलिस की कड़ी निगरानी में है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें