scorecardresearch
 

UP: हापुड़ पहुंचे ओवैसी, स्वागत में समर्थकों का हुड़दंग, कोरोना नियमों की उड़ी धज्जियां

सिर्फ यहीं नहीं ओवैसी के स्वागत में बाइक रैली भी निकाली गई. कुछ उत्साही समर्थकों ने बाइक के जरिए ही सड़कों पर जमकर हुड़दंग मचाया और कोरोना प्रोटोकॉल्स को लगातार चुनौती देते रहे.

गाजियाबाद में ओवैसी का स्वागत, ताक पर कोरोना नियम गाजियाबाद में ओवैसी का स्वागत, ताक पर कोरोना नियम
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गाजियाबाद में ओवैसी का स्वागत
  • ताक पर कोरोना नियम, समर्थकों का हुड़दंग

उत्तर प्रदेश का चुनाव (UP Election) नजदीक है और AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) लगातार राज्य का दौरा कर रहे हैं. गुरुवार को उन्होंने गाजियाबाद का रुख किया और वहां पर अपनी पार्टी के नए ऑफिस का उद्घाटन किया. वे हापुड़ भी गए जहां पर AIMIM समर्थकों ने उनका जोरदार स्वागत किया और आगामी चुनाव में पार्टी की बड़ी जीत का दावा कर दिया.

गाजियाबाद में ओवैसी का स्वागत, ताक पर कोरोना नियम

अब असदुद्दीन ओवैसी के इस दौरे के राजनीतिक मायने काफी ज्यादा रहे, लेकिन कोरोना के लिहाज से भी ये महत्वपूर्ण साबित हुआ. हापुड़ में उनके स्वागत में ऐसा हुजूम देखने को मिला कि कोरोना गाइडलाइन्स का मखौल लगातार बनता रहा और सोशल डिस्टेंसिंग की बात करना भी बेमानी रहा. जो तस्वीरें सामने आई हैं उनमें भारी संख्या में AIMIM समर्थक अपने नेता का स्वागत कर रहे हैं. उनका उत्साह इतना ज्यादा है कि वे ना मास्क लगाए हुए हैं और ना ही कोरोना प्रोटोकॉल्स का पालन कर रहे हैं. सभी को ओवैसी के साथ सेल्फी क्लिक करवानी है, उनसे एक बार मिलना है. 

मीडिया से नहीं की बातचीत

सिर्फ यहीं नहीं ओवैसी के स्वागत में बाइक रैली भी निकाली गई. कुछ उत्साही समर्थकों ने बाइक के जरिए ही सड़कों पर जमकर हुड़दंग मचाया और कोरोना प्रोटोकॉल्स को लगातार चुनौती देते रहे. इस सब पर ओवैसी की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई क्योंकि उन्होंने दौरा जरूर चुनाव से पहले किया, लेकिन मीडिया से बातचीत करना ठीक नहीं समझा. वे सिर्फ अपने समर्थकों से मिले, पार्टी के ऑफिस का उद्घाटन किया और वहां से चलते बने. बताया गया है कि वे अब मुरादाबाद के लिए निकल लिए हैं.

यूपी चुनाव में ओवैसी के लिए चुनौती

वैसे यूपी चुनाव के लिए ओवैसी की तरफ से तैयारी जरूर जोरों पर की जा रही है, लेकिन यहां उनकी पार्टी को कई बड़े झटके भी लग रहे हैं. हाल ही में वाराणसी में AIMIM की पूरी जिला यूनिट कांग्रेस में शामिल हो गई थी. करीब दो दर्जन नेताओं ने AIMIM का दामन छोड़ कांग्रेस में जाने का फैसला लिया था. इस सब के अलावा सीट शेयरिंग को लेकर भी ओवैसी और ओम प्रकाश राजभर के बीच तालमेल बैठता नहीं दिख रहा है. ओवैसी ने 100 सीट पर लड़ने का दावा कर दिया है, तो वहीं ओम प्रकाश कुछ भी बोलने से बच रहे हैं. ऐसे में चुनौतियां अनेक हैं, लेकिन ओवैसी अपनी उपस्थिति दर्ज करवाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं.

अभिषेक आनंद का इनपुट

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें