scorecardresearch
 

अमरोहाः पड़ोसी के घर खुशियों में हुई आतिशबाजी, जलकर खाक हो गया गरीब का आशियाना

घटना अमरोहा जिले के चकफेरी गांव की है. जहां ओतारी के घर पर मांगलिक कार्यक्रम हो रहा था. खुशी के इस मौके पर लोगों द्वारा आतिशबाजी की जा रही थी. वहीं पड़ोस में रहने वाले रूप सिंह पुत्र भूदेव ने कई बार आतिशबाजी करने से मना किया पर लोग नहीं माने.

X
आतिशबाजी की भेंट चढ़ गया गरीब का घर आतिशबाजी की भेंट चढ़ गया गरीब का घर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आग में करीब 1 लाख रुपये का सामान जलकर खाक
  • घर में रखे 20 हजार नकद भी आग की भेंट चढ़ गए
  • आतिशबाजी करने से मना किया गया पर लोग नहीं माने

उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले से एक ऐसी खबर सामने आई है जिसमें एक घर की खुशी पड़ोस के दूसरे घर के लिए आफत बन गई. आतिशबाजी में गरीबों के घर तो जल ही गए. घर में रखे सामान और अन्य चीजें भी जलकर खाक हो गए. साथ ही 20 हजार रुपये भी आग की भेंट चढ़ गए.

लापरवाही में की गई आतिशबाजी के चलते पड़ोसी के छप्पर में आग लग गई और देखते ही देखते गरीब का घर जलकर खाक हो गया. आग में 1 लाख रुपये से ज्यादा का सामान जलकर खाक हो गया. यही नहीं बीस हजार रुपयों की नकदी भी जलने का दावा भी किया जा रहा है. बताया जा रहा है कि मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने बमुश्किल आग पर काबू पाया.

आग से जलकर सब खत्म हो गया
आग से जलकर सब खत्म हो गया

यह घटना अमरोहा जिले के चकफेरी गांव की है. जहां ओतारी के घर पर मांगलिक कार्यक्रम हो रहा था. खुशी के इस मौके पर लोगों द्वारा आतिशबाजी की जा रही थी. वहीं पड़ोस में रहने वाले रूप सिंह पुत्र भूदेव ने कई बार आतिशबाजी करने से मना किया पर लोग नहीं माने.

मना करने पर भी लोग नहीं माने और आतिशबाजी की
मना करने पर भी लोग नहीं माने और आतिशबाजी की

आतिशबाजी से निकली कुछ चिंगारी होशराम के छप्पर पर गिर गई. जिससे छप्पर ने भयानक आग पकड़ ली. ग्रामीणों ने आग बुझाने की काफी कोशिश की. लेकिन तब तक घर में रखे कीमती सामान, कपड़ा, घरेलू सामान समेत 20 हजार रुपये आग की चपेट में आ गए. बताया जा रहा है कि करीब एक लाख रुपये से ऊपर का माल जलकर खाक हो चुका है.

पीड़ित होशराम ने मामले में कार्रवाई की मांग की है. आग इतनी भयानक थी कि जल्द ही शोलों के रूप में तब्दील हो गई थी. जिससे पीड़ित के घर में चीख-पुकार मच गई थी. बमुश्किल आग पर काबू पाया गया. लेकिन तब तक लाखों रुपये से ऊपर का माल जलकर खाक हो चुका था.

आजतक से बातचीत के दौरान होशराम ने कहा, "बराबर में रिश्ते का प्रोग्राम था. लोगों ने उनसे कहा भी था कि आग लग जाएगी. उन्होंने किसी की बात नहीं मानी. दो लड़के आतिशबाजी कर रहे थे. लाखों रुपये का नुकसान हो गया है. बीस हजार की नकदी जली है जो बैंक से निकाले गए थे. राशन और चारपाई, बिस्तर, कपड़े और जरूरी सामान जल गया है."

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें