scorecardresearch
 

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में छापेमारी, 58 कमरे सील, बम बनाने का सामान बरामद

उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद विश्वविद्यालय के ताराचंद छात्रावास में छापेमारी के दौरान पुलिस ने बम और असलहे बनाने के उपकरण बरामद किए हैं. पुलिस की छापेमारी में 58 कमरों को सील किया है और कई गाड़ियां भी बरामद की हैं.

X
(घटनास्थल की तस्वीर- साभार - ट्विटर) (घटनास्थल की तस्वीर- साभार - ट्विटर)

उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद विश्वविद्यालय के ताराचंद छात्रावास में छापेमारी के दौरान पुलिस ने बम और असलहे बनाने के उपकरण बरामद किए हैं. पुलिस की छापेमारी में 58 कमरों को सील किया है और कई गाड़ियां भी बरामद की हैं. पुलिस की छापेमारी के दौरान छात्रावास में अफरातफरी का माहौल रहा.

पुलिस ने इस कार्रवाई में ताराचंद हॉस्टल के कमरों की गहन तलाशी ली और अवैध रूप से कब्जा जमाए छात्रों को कमरे से बेदखल किया.

पुलिस ने हॉस्टल को खाली कराने के लिए अर्धसैनिक बलों की भी मदद ली और भारी मात्रा में पुलिस फोर्स छापेमारी की कार्रवाई के दौरान मौजूद रही.

समाजवादी पार्टी की प्रवक्ता रिचा सिंह ने प्रशासन की कार्रवाई पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने ट्वीट कर छात्रावास पर की गई छापेमारी के खिलाफ आवाज उठाई है. साथ ही उन्होंने प्रशासन पर छात्रों के उत्पीड़न का आरोप भी लगाया है.

बता दें इससे पहले रविवार को रोहित शुक्ला नाम के एक छात्र की गोली मारकर हत्या हुई थी. पहले पुलिस को 100 नंबर पर कॉल करके जानकारी दी गई थी.

पुलिस अधीक्षक (नगर) बृजेश श्रीवास्तव ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि घटना पीसीबी छात्रावास की है. जहां रविवार रात करीब ढाई बजे 21 वर्षीय रोहित शुक्ला को एक युवक ने गोली मार दी.

एसपी सिटी के अनुसार गोली लगने से रोहित की मौके पर ही मौत हो गई थी. प्राथमिक जानकारी के अनुसार आदर्श त्रिपाठी नाम के एक व्यक्ति ने रोहित पर गोली चलाई थी.

पुलिस अधीक्षक बृजेश ने बताया था कि रोहित शुक्ला के सिर के पीछे गोली मारी गई, जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई. फिलहाल आरोपी फरार है और उसकी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें