scorecardresearch
 

अलीगढ़: 22 और 23 जनवरी को होने वाला धर्म संसद स्थगित, आयोजक ने कहा- तारीखों का ऐलान जल्द

अन्नपूर्णा भारती ने बताया कि उत्तराखंड में हमारे महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद सरस्वतीजी महाराज और जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी जेल में हैं. ऐसे में हमने निर्णय लिया है कि 22 और 23 जनवरी को होने वाले धर्म संसद को स्थगित कर दिया जाए.

X
धर्म संसद की आयोजक महामंडलेश्वर अन्नपूर्णा भारती उर्फ पूजा शकुन पांडे. -फाइल फोटो धर्म संसद की आयोजक महामंडलेश्वर अन्नपूर्णा भारती उर्फ पूजा शकुन पांडे. -फाइल फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आयोजक महामंडलेश्वर अन्नपूर्णा भारती ने दी जानकारी
  • कहा- यति नरसिंहानंद और जीतेंद्र त्यागी की रिहाई के बाद होगा फैसला

हरिद्वार में पिछले साल दिसंबर में हुई धर्म संसद के बाद अलीगढ़ में 22 एवं 23 जनवरी को धर्म संसद होना था, लेकिन आयोजकों ने फिलहाल इस धर्म संसद को स्थगित कर दिया है. धर्म संसद की आगामी तारीख की घोषणा मीटिंग के बाद तय होगी. अलीगढ़ धर्म संसद की आयोजक महामंडलेश्वर अन्नपूर्णा भारती उर्फ पूजा शकुन पांडे ने बताया कि यूपी में चुनाव के पहले चरण के तहत अलीगढ़ में वोटिंग होनी है. इसके बाद कोरोना भी है. सबसे बड़ी बात यह है कि मेरे दो धर्म योद्धा, दो शेर इस समय उत्तराखंड की जेल में हैं. 

अन्नपूर्णा भारती ने बताया कि उत्तराखंड में हमारे महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद सरस्वतीजी महाराज और जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी जेल में हैं. इन दोनों के जेल में होने के चलते हमने निर्णय लिया है कि 22 और 23 जनवरी को होने वाले धर्म संसद को स्थगित कर दिया जाए. उन्होंने कहा कि निश्चित ही धर्म संसद होगी, लेकिन महाराजजी के बाहर आने के बाद. धर्म संसद होने का जो भी समय होगा, उसे बैठक में तय किया जाएगा और फिर आप सभी को इस बारे में बता दिया जाएगा. 

बता दें कि 6 दिन पहले हरिद्वार धर्म संसद मामले में उत्तराखंड पुलिस ने यति नरसिंहानंद को गिरफ्तार कर लिया. धर्म संसद मामले में यह दूसरी गिरफ्तारी है. इससे पहले इस मामले में वसीम रिजवी उर्फ जीतेंद्र त्यागी को शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया था. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें