scorecardresearch
 

महंगाई को लेकर बिफरे अखिलेश, कहा-सेंट्रल विस्टा, भाजपाई चुनाव खर्च का बोझ टैक्स पर आ गया है

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने डीजल पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को लेकर केंद्र सरकार को घेरा है.

समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव. (फाइल फोटो) समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • महंगाई ने कमर तोड़ दी फिर भी कहें सब चंगा सी- अखिलेश
  • केंद्र पर ट्विटर के जरिए अखिलेश यादव ने साधा निशाना

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने डीजल पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को लेकर केंद्र सरकार को घेरा है.

अखिलेश ने तंज कसते हुए ट्विटर पर लिखा है, ''पेट्रोल, डीज़ल, एलपीजी, दाल, सरसों, दूध और घी है महँगाई ने कमर तोड़ दी
फिर भी कहें सब चंगा सी. सुना है 30 दिनों में 16 बार पेट्रोल-डीज़ल के दाम बढ़े हैं. लगता है ‘सेंट्रल विस्टा’ के प्रधान-निवास, कार्यालय, महाविमान व भाजपाई चुनाव ख़र्च का बोझ जनता के टैक्स के कंधों पर आ गया है.''

इससे पहले अखिलेश यादव ने ट्वीट कर ट्विटर ऑफिस पर कार्रवाई को लेकर केंद्र सरकार पर तंज कसा था. अखिलेश यादव ने इस कार्रवाई पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि ''ट्विटर के दिल्ली व गुरुग्राम के ऑफिस पर छापा मरवाना भाजपा सरकार की गिरती हुई वैश्विक छवि को और नीचे गिरायेगा. ये एक अलोकतांत्रिक व घोर निंदनीय कृत्य है. भाजपा अपने ही बिछाए झूठ के जाल में फंस गई है. ये भूल गए हर कोई दाना नहीं चुगता. इस बार बहेलिए को चिड़िया ले उड़ी.''

गौरतलब है कि तेल कंपनियों ने सोमवार 31 मई के पेट्रोल-डीजल के दाम जारी किए. पेट्रोल और डीजल के दाम में बदलाव हुआ है. पेट्रोल 29 पैसे प्रति लीटर जबकि डीजल 26 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ है. दिल्ली के बाजार में आज पेट्रोल 94.23 रुपये प्रति लीटर और डीजल भी 85.15 रुपये प्रति लीटर है. तेल की बढ़ी कीमत को लेकर विपक्ष ने केंद्र पर निशाना साधना शुरू कर दिया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें