scorecardresearch
 

योग तक ठीक, पर नहीं कह सकते हम ॐ: दारुल उलूम

सूर्य नमस्कार 21 जून को मनाए जाने वाले इंटरनेशनल योग दिवस से पहले विवादों से जुड़ गया है, लेकिन इन सब के बीच दारुल उलुम देवबंद ने कहा है कि इस्लामिक नियमों के तहत मुस्लिम ' ॐ' कहने की बजाय या तो मुस्लिम अल्लाह कह सकते हैं या उस शब्द के स्थान पर चुप रह सकते हैं.

X
Symbolic Image Symbolic Image

सूर्य नमस्कार 21 जून को मनाए जाने वाले इंटरनेशनल योग दिवस से पहले विवादों से जुड़ गया है, लेकिन इन सब के बीच दारुल उलुम देवबंद ने कहा है कि इस्लामिक नियमों के तहत मुस्लिम ' ॐ' कहने की बजाय या तो मुस्लिम अल्लाह कह सकते हैं या उस शब्द के स्थान पर चुप रह सकते हैं.

बीजेपी की मुस्लिम शाखा 'मुस्लिम राष्ट्रीय मंच' ने इसी क्रम में 'योग और इस्लाम' नाम से पत्रिका जारी की है. अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक, आयुष मंत्रालय के सेक्रेटरी निलंजन सान्याल ने कहा, 'सूर्य नमस्कार 'ऊं' के उच्चारण से शुरू होगा. इसमें कुछ गलत नहीं है. ' ॐ' का संबंध किसी धर्म विशेष से नहीं है.'

बीजेपी समर्थक मुस्लिम संस्थाओं ने ' ॐ' के उच्चारण को लेकर अपना विरोध जताया है. केंद्र सरकार ने 21 जून को 12 योगासन कराए जाने की हरी झंडी दी है. हालांकि मुस्लिम संस्थाएं सूर्य नमस्कार हिंदुओं की धार्मिक क्रियाओं से जुड़ा हुआ है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें