scorecardresearch
 

प्रभु को ट्वीट किया तो महिला यात्री को तत्काल मदद मिली

महाराष्ट्र में ट्रेन में अकेले यात्रा कर रही एक महिला यात्री को उस समय अधिकारियों की तत्काल सहायता मिली जब उसने रेल मंत्री सुरेश प्रभु के ट्विटर हैंडल पर एक ट्वीट कर मदद की मांग की.

महाराष्ट्र में ट्रेन में अकेले यात्रा कर रही एक महिला यात्री को उस समय अधिकारियों की तत्काल सहायता मिली जब उसने रेल मंत्री सुरेश प्रभु के ट्विटर हैंडल पर एक ट्वीट कर मदद की मांग की.

मध्य रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आज बताया कि यात्री की पहचान नम्रता महाजन के रूप में की गई है जिसने कल शेगांव रेलवे स्टेशन से गुजरने के दौरान प्रभु के ट्विटर हैंडल पर शाम को छह बजकर 59 मिनट पर एक ट्वीट किया था.

 



उन्होंने ट्वीट किया, ‘प्लीज ट्रेन नंबर 18030 में मदद करें.  शेगांव पर एक पुरुष यात्री मुझे परेशान कर रहा है. मैं ट्रेन में हूं और डरी हुई हूं.’ मध्य रेलवे के मुख्य पीआरओ नरेंद्र पाटिल ने बताया कि एक वरिष्ठ अधिकारी वेद प्रकाश ने तुरंत ट्वीट देखा और महिला की मदद के लिए आवश्यक कदम उठाने के लिए उनसे संपर्क किया. उन्होंने बताया कि जब 40 मिनट में ट्रेन भुसावल रेलवे स्टेशन पर पहुंची तो आरपीएफ जवानों ने महिला की मदद की.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें