scorecardresearch
 

TRAI चेयरमैन का आधार चैलेंज फेल, मिनटों में लीक हुआ डाटा

आधार कार्ड के 12 अंक के नंबर के साथ आम लोगों की कई पर्सनल जानकारी जुड़ी हुई हैं. सरकार के द्वारा लागू की गई कई योजनाओं, बैंक खातों और अन्य सरकारी कामकाज के लिए आधार कार्ड काफी जरूरी है. ऐसे में अगर आधार कार्ड की सुरक्षा पर सवाल खड़े होते हैं तो ये सोचने वाला विषय है.

TRAI चेयरमैन आर. एस. शर्मा (File Picture) TRAI चेयरमैन आर. एस. शर्मा (File Picture)

आधार कार्ड की सुरक्षा को लेकर कई बार सवाल उठते रहे हैं. इन सवालों के बीच भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) के अध्यक्ष आर. एस. शर्मा ने शनिवार को सोशल मीडिया पर अपने आधार कार्ड का नंबर जारी किया. उन्होंने एक ट्विटर यूजर के सवाल के जवाब में अपना नंबर साझा किया और चैलेंज किया कि अब आप मेरी जानकारी को नुकसान पहुंचाकर दिखाएं. 

उनकी इस चुनौती के कुछ मिनटों के बाद ही उनके आंकड़े लीक हो गए. इलियट एल्डरसन उपनाम वाले फ्रांस के एक सुरक्षा विशेषज्ञ का ट्विटर हैंडल @fs0c131y है उन्होंने ट्वीट्स की श्रृंखला में शर्मा के निजी जीवन के कई आंकड़े, उनके 12 अंकों की आधार संख्या के माध्यम से जुटाकर जारी कर दिए, जिनमें शर्मा का निजी पता, जन्मतिथि, वैकल्पिक फोन नंबर आदि शामिल हैं.

उन्होंने इन आंकड़ों को जारी करते हुए शर्मा को बताया कि आधार संख्या को सार्वजनिक करने के क्या खतरे हो सकते हैं. एल्डरसन ने लिखा, "आधार संख्या असुरक्षित है. लोग आपका निजी पता, वैकल्पिक फोन नंबर से लेकर काफी कुछ जान सकते हैं, मैं यही रुकता हूं. मैं उम्मीद करता हूं कि आप समझ गए होंगे कि अपना आधार संख्या सार्वजनिक करना एक अच्छा विचार नहीं है."

शर्मा, आधार परियोजना के सबसे बड़े समर्थकों में से माने जाते हैं. उनका अभी भी कहना है कि यह विशिष्ट संख्या किसी की निजता का उल्लंघन नहीं करता है तथा सरकार को इस तरह के डेटाबेस बनाने का अधिकार है, ताकि वह सरकारी सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के तहत नागरिकों को सब्सिडी दे सके.

आधार को लेकर निजता की चिंता का मामला सर्वोच्च न्यायालय पहुंच चुका है और कार्यकर्ताओं से लेकर आम जनता तक को डर है कि उनका 12 अंकों का बायोमीट्रिक नंबर कहीं निजता के लिए हानिकारक तो नहीं है.

शर्मा का कार्यकाल नौ अगस्त को समाप्त हो रहा है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, "मेरा आधार संख्या 762177682740 है. मैं चुनौती देता हूं कि आप कोई ठोस उदाहरण दें कि इसे जानकर आप मुझे कोई हानि पहुंचा सकते हैं."

एंडरसन ने आधार संख्या की मदद से शर्मा के निजी फोटो तक ढूंढ़ निकाले और ट्वीट कर प्रकाशित करते हुए लिखा, "मैं समझता हूं कि इस तस्वीर में आपकी पत्नी और बेटी हैं." एंडरसन आधार डेटा प्रणाली की सुरक्षा से जुड़ी खामियों का खुलासा करने के लिए जाने जाते हैं.

उन्होंने शर्मा से जुड़ी कई सारी जानकारियां और तस्वीरें प्रकाशित की, हालांकि उनमें कई संवेदनशील हिस्सों को ब्लर कर प्रकाशित किया, ताकि शर्मा की निजता को कोई नुकसान न हो. उनके द्वारा प्रकाशित तस्वीरों में शर्मा का पैन कार्ड भी शामिल था, हालांकि उसके नंबरों को एंडरसन ने ब्लर कर दिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें