scorecardresearch
 

लीबिया में फंसे पंजाब के 3 युवकों ने वीडियो भेजकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से लगाई मदद की गुहार

दरअसल ये तीनों युवक लीबिया की कंपनी अल-बैराज में वैल्डिंग का काम करने के लिए अप्रैल में भारत से लीबिया गए थे, लेकिन तीनों का आरोप है कि तब से अब तक इनके ऊपर वहां काफी जुल्म किएजा रहे हैं.

X
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज

पंजाब के लोगों पर विदेश में जाकर पैसा कमाने का जुनून इस कदर हावी है कि‍ मौका परस्त एजेंटों के हत्थे चढ़कर अपनी जान जोख़िम में डाल रहे हैं. ऐसा ही मामला पंजाब में खन्ना गांव बुआणी और घलोटी के रहने वाले टीटू बंसल और मलकीत सिंह के साथ हुआ. ये युवक रोजगार के लिए अपना देश छोड़कर अपने घर परिवार से दूर एक एजेंट के जरिएलीबिया गए और अब पछता रहे हैं.

दरअसल ये तीनों युवक लीबिया की कंपनी अल-बैराज में वैल्डिंग का काम करने के लिए अप्रैल में भारत से लीबिया गए थे, लेकिन तीनों का आरोप है कि तब से अब तक इनके ऊपर वहां काफी जुल्म किएजा रहे हैं. ना तो इनको तनख्वाह दी जा रही है, ना भरपेट खाना और इनके पासपोर्ट भी कंपनी ने अपने पास जब्त करके रख लिए हैं.

अब इन इन तीनों ने लीबिया से एक वीडियो भेजा है, जिसके जरिए उन्होंने भारत सरकार और विदेश मंत्रालय से मदद की गुहार की है. पंजाब सरकार ने भी इस वीडियो के सामने आने के बाद भरोसा दिया है कि वो इस मामले को लेकर भारत सरकार और विदेश मंत्रालय से इन लोगों को लीबिया से बाहर निकालने की गुहार लगाएंगे. वहीं कांग्रेस के नेता कह रहे है कि केंद्र सरकार सोई हुई है. जिस तरह कैप्टन अमरिंदर सिंह दुबई से नौजवानों को निकलवा कर लाए थे, ऐसा आज तक किसी नेता ने भी नही किया.

इन युवकों ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से गुहार लगाई है कि इन्हें लीबिया से जल्द से जल्द निकाला जाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें