scorecardresearch
 

सर्जिकल स्ट्राइक पर सियासी गोलाबारी: सबूत मांगने वाले अब माफी मांगें

सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो जारी होते ही कांग्रेस आज सुबह-सुबह मोर्चे पर आई और शहादत पर सियासत करने का आरोप जारी कर दिया. सर्जिकल स्ट्राइक पर सियासी गोलाबारी शुरू हो गई है. इसी मुद्दे पर भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन, कांग्रेस प्रवक्ता मुकेश नायक, रक्षा विशेषज्ञ संजय कुलकर्णी और मेजर जनरल रिटायर्ड योगी बहल ने अपनी राय रखी.

X
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

सर्जिकल स्ट्राइक के करीब दो साल बाद इसका वीडियो जारी करने की जरूरत क्यों महसूस हुई? क्या इसलिए कि अरुण शौरी जैसे नेता सर्जिकल स्ट्राइक को ‘फर्जिकल स्ट्राइक’ कहने लगे थे. या फिर कांग्रेस का दबाब था जो सर्जिकल स्ट्राइक पर लगातार सवाल उठा रही थी.

वीडियो जारी होते ही कांग्रेस आज सुबह-सुबह मोर्चे पर आई और शहादत पर सियासत करने का आरोप जारी कर दिया. सर्जिकल स्ट्राइक पर सियासी गोलाबारी शुरू हो गई है. इसी मुद्दे पर भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन, कांग्रेस प्रवक्ता मुकेश नायक, रक्षा विशेषज्ञ संजय कुलकर्णी और मेजर जनरल रिटायर्ड योगी बहल ने अपनी राय रखी.

रक्षा विशेषज्ञ संजय कुलकर्णी ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत देने की कोई जरूरत नही है. इस पर किसी भी तरह की राजनीति नहीं होनी चाहिए. ये अभी जो डेढ़ दो मिनट का वीडियो देखा जा रहा है, मुझे पूरी उम्मीद है कि ये वीडियो लीक हुआ होगा. क्योंकि उस ऑपरेशन की रिकॉर्डिंग लगातार हुई होगी. ये दो मिनट का वीडियो जरूर लीक होने के चलते आज सामने आया है.

कांग्रेस प्रवक्ता मुकेश नायक ने कहा कि ये पहली बार सर्जिकल स्ट्राइक नहीं हुई है. इससे पहले बीसियों बार ऐसी सर्जिकल स्ट्राइक की जा चुकी है. सामरिक विषय का इस तरह राजनीतिकरण कभी नहीं किया गया. उत्तर प्रदेश के चुनाव के वक्त

लखनऊ में तत्कालीन रक्षामंत्री का स्वागत किया गया. भाषण में ऐसे कहा गया जैसे अमित शाह और भाजपा कार्यकर्ताओं ने ये स्ट्राइक की है. सेना ने जो साहस का काम किया, शहादत दी, उसे बीजेपी का अपना काम बताना बेहद निराशाजनक है.

भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कहा कि 71 की लड़ाई क्या युवा कांग्रेस वाले जाकर लड़े थे? कांग्रेसियों में सर्जिकल स्ट्राइक को कम बताने की होड़ मची है. कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम और संजय निरूपम ने सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगे थे. राहुल गांधी ने खून की दलाली कहा. कांग्रेस ने सेना का अपमान किया है. कांग्रेस के बयानों का पाकिस्तान ने पूरी दुनिया में दुरुपयोग किया. लिहाजा कांग्रेस को सेना से औप देश से माफी मांगनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने बहुत सबूत मांगे थे. अब सबूत भी मिल गए हैं तो माफी मांग लीजिए. सेना को कमजोर करना कांग्रेस की आदत सी बन गई है.

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक पर सोनिया गांधी, राहुल गांधी और डॉ. मनमोहन सिंह ने आतंकवाद के विरुद्ध भारतीय सेना के इस पराक्रम की सराहना की थी. आज देश में 1600 बार से ज्यादा एलओसी पर सीजफायर हुआ है. 146 सैनिक शहीद हो गए हैं. 80 बार आतंकी हमले हो चुके हैं.

मुकेश नायक ने कहा कि सेना के बजट पर कांग्रेस ने नहीं बल्कि सेना प्रमुख ने ही ये बात कही थी. हम सेना की मजबूती और कमजोरी पर नजर रखते हैं. भारत आज इतनी बड़ी सैन्य शक्ति जो बना है वो पिछले चार सालों में नहीं हो गया है. ये निरंतर प्रयास का नतीजा है. पिछली सभी सरकारों ने इसके लिए प्रयास किया है.

अरुण शौरी के फर्जिकल स्ट्राइक कहे जाने पर वीडियो जारी करवाने के सवाल पर शाहनवाज हुसैन ने कहा कि वीडियो जारी नहीं करवाया गया है. अब ये वीडियो आ गया है तो ये कांग्रेस के लिए आंखें खोलने वाला है.

मेजर जनरल रिटायर्ड योगी बहल ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक और छोटे-मोटे ऑपरेशन में बहुत अंतर होता है. फौज के शौर्य पर वोट बटोरने की प्रथा बंद होनी चाहिए. फौज का बीते 70 साल में किसी भी राजनीतिक दल से कोई संबंध नहीं रहा है.

सर्जिकल स्ट्राइक पर संजय निरूपम के फौज का मजाक बनाने पर माफी मांगने के सवाल पर मुकेश नायक ने कहा कि उसके बयान को कांग्रेस ने निजी राय कहा था. सेना पर कांग्रेस का कोई भी नेता राजनीति नहीं करना चाहता.

सेना अध्यक्ष को सड़क का गुंडा बताने वाले कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित के बयान के सवाल पर मुकेश नायक ने कहा कि उस बयान पर भी कांग्रेस ने कहा था कि उन्हें ऐसा नहीं कहना चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें