scorecardresearch
 

शाम को खुलेंगे सबरीमाला मंदिर के कपाट, सुरक्षा बढ़ाई गई

भगवान अयप्पा के मंदिर के कपाट आज एक बार फिर खुल रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट के फैसले को देखते हुए मंदिर के आसपास सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता किया गया है.

सबरीमाला मंदिर (फाइल फोटो, PTI) सबरीमाला मंदिर (फाइल फोटो, PTI)

केरल के प्रसिद्ध सबरीमाला मंदिर के द्वार आज एक बार फिर खुलने जा रहे हैं. विरोध प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए पूरे इलाके में 2300 से अधिक सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं. गौरतलब है कि पिछली बार जब मंदिर के गेट खुले थे, तो काफी हंगामा हुआ था.

मंदिर के कपाट शाम पांच बजे खुलेंगे और मंगलवार रात 10 बजे बंद होंगे. श्रद्धालुओं को केवल सोमवार दोपहर बाद ऊपर के रास्ते पर जाने की इजाजत दी जाएगी. महिलाओं के प्रवेश को लेकर सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए आदेश के बाद मंदिर के बाहर प्रदर्शन लगातार जारी है.

मंदिर के कपाट खुलने से पहले केरल हाईकोर्ट ने आदेश दिया है कि किसी भी श्रद्धालु और मीडियापर्सन को रोका ना जाए. सरकार को मंदिर की गतिविधियों में दखल नहीं देना चाहिए.

भाजपा व कई अन्य हिंदू संगठन सबरीमाला मंदिर में सभी आयु की महिलाओं को प्रवेश देने के सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. केरल सरकार ने कहा है कि वह शीर्ष अदालत के आदेश को लागू करेगी.

निलक्कल से लेकर मंदिर कस्बे आधार शिविर पांबा तक जाने वाली सभी सड़कों पर बैरिकैड लगा दिए गए हैं और पुलिस द्वारा सोमवार सुबह तक निषिद्ध घोषित कर दिया गया है. पुलिस मंदिर कस्बे और उसके आस-पास से गुजरने वाले प्रत्येक वाहन की जांच कर रही है. रविवार को विरोध के बाद पुलिस ने मीडिया को निलक्कल जाने की इजाजत दे दी है.

क्या था सुप्रीम कोर्ट का फैसला?

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 10 से 50 साल की महिलाओं को मंदिर में प्रवेश से रोकने की सदियों पुरानी परंपरा को गलत बताते हुए उसे खत्म कर दिया था और सभी आयुवर्ग की महिलाओं को प्रवेश करने की इजाजत दी थी. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद 17 अक्टूबर को पहली बार कपाट खुले थे और अब खुल रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें