scorecardresearch
 

मोदी के मंत्री रामदास अठावले ने की सेना में दलित-आदिवासियों को आरक्षण देने की मांग

केंद्रीय मंत्री अठावले ने बताया कि संविधान निर्माता डॉ बीआर अंबेडकर कहते थे कि हम सभी को देश की सेवा करनी चाहिए. इसके आगे उन्होंने सभी नौजवानों से भारतीय सेना ज्वाइन कर देश की सेवा करने की अपील की.

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने एक बार फिर आरक्षण को लेकर बयान दिया है. इस बार अठावले ने सेना में आरक्षण को लेकर मांग उठाई है.

रामदास अठावले ने मांग की है कि सेना में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लोगों को आरक्षण दिया जाए. इसके लिए अठावले ने बाकायदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है. केंद्रीय मंत्री अठावले ने बताया कि संविधान निर्माता डॉ बीआर अंबेडकर कहते थे कि हम सभी को देश की सेवा करनी चाहिए. इसके आगे उन्होंने सभी नौजवानों से भारतीय सेना ज्वाइन कर देश की सेवा करने की अपील की.

क्रिकेट में की थी आरक्षण की मांग

 

इससे पहले रामदास अठावले ने क्रिकेट में अनुसूचित जाति और जनजाति वालों को 25 प्रतिशत आरक्षण दिए जाने की मांग की थी. अठावले ने बाकायदा दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ये मांग रखी था. दरअसल, चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान के हाथों मिली करारी हार से निराश अठावले ने कहा था कि एससी/एसटी को आरक्षण मिलने से एक मजबूत टीम का निर्माण होगा.

उन्होंने कहा था कि भारतीय टीम अच्छा नहीं खेल रही है, इसीलिए मैंने रिजर्वेशन की मांग की है. उन्होंने कहा था कि विनोद कांबली के बाद हमारे समाज का कोई भी खिलाड़ी टीम में नहीं आया.बता दें कि रामदास अठावले रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के संस्थापक हैं और एनडीए सरकार में मंत्री हैं.

बता दें कि रामदास अठावले रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के संस्थापक हैं और एनडीए सरकार में मंत्री हैं.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें