scorecardresearch
 

हथियारों के दलाल थे राजीव गांधी: विकिलीक्स

विकिलीक्स ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बारे में सनसनीखेज खुलासा किया है. विकिलीक्स ने आरोप लगाया है कि इंडियन एयरलाइन्स में काम करते हुए राजीव गांधी स्वीडन की एक कंपनी के लिए एजेंट का काम करते थे.

X
राजीव गांधी
राजीव गांधी

विकिलीक्स ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बारे में सनसनीखेज खुलासा किया है. विकिलीक्स ने आरोप लगाया है कि इंडियन एयरलाइन्स में काम करते हुए राजीव गांधी स्वीडन की एक कंपनी के लिए एजेंट का काम करते थे.

एक अंग्रेजी अखबार 'द हिंदू' में छपी इस खबर के अनुसार वो स्वीडन की साब स्कानिया कंपनी के साथ जुड़े हुए थे. ये कंपनी भारत को लड़ाकू विमान बेचना चाहती थी. हालांकि ये सौदा नहीं हो सका था. उस रेस में ब्रिटिश कंपनी जुगआर ने बाजी मार ली थी.

इस खुलासे से बाद बीजेपी ने गांधी परिवार से जवाब मांगा है. बीजेपी का कहना है कि इस पूरे मामले में सरकार और गांधी परिवार को सामने आकर सफाई देनी चाहिए.

गौरतलब है कि कुछ समय पूर्व कुथ लिंडस्ट्रोम ने वेबसाइट 'द हूट' को दिए साक्षात्कार में भी दावा किया था कि बोफोर्स तोप सौदे में पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत राजीव गांधी के खिलाफ रिश्वत लेने के साक्ष्य नहीं हैं. लेकिन इटली के व्यापारी ओत्तावियो क्वात्रोक्की के खिलाफ पर्याप्त सबूत होने के बावजूद उन्हें देश से सुरक्षित बाहर जाने दिया गया.

स्वीडन की हथियार कंपनी बोफोर्स पर भारतीय सेना को तोप सप्लाई करने का सौदा हथियाने के लिये 80 लाख डालर की दलाली चुकाने का आरोप है.

विकिलीक्स ने पूर्व रक्षामंत्री और समाजवादी नेता जॉर्ज फर्नांडिस पर भी बड़ा खुलासा किया है. विकिलीक्स को मिले अमेरिकी केबल्स के मुताबिक- खुद को अमेरिकी विरोधी साबित करने वाले जार्ज फर्नांडिस ने आपात काल के दौरान अमेरिकी खुफिया एजेसी सीआईए से मदद मांगी थी.

विकिलीक्स का खुलासा है कि सीआईए से पैसे लेने पर भी समाजवादी नेता जॉर्ज फर्नांडिस को एतराज नहीं था. खुलासा है कि इंदिरा गांधी के आपात काल से लड़ने के लिए जॉर्ज फर्नांडिस ने फ्रांसीसी सरकार से भी मदद मांगी.

गौरतलब है कि 1974 में रेलवे की हड़ताल को सफल बनाने में उस समय ऑल इंडिया रेलवेमैन फेडरेशन के अध्यक्ष जॉर्ज फर्नाडिंस का अहम योगदान था. इस हड़ताल से देश एक तरह से ठहर गया था और इसके कुछ समय बाद ही इंदिरा गांधी ने आपात काल की घोषणा की थी.

कांग्रेस ने किया खुलासे का खंडन
विकिलीक्स द्वारा देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को लेकर किए गए खुलासे को कांग्रेस पार्टी ने खारिज कर दिया है. कांग्रेस महासचिव जनार्दन द्विवेदी ने कहा है कि विकिलीक्स के आरोपों में कोई दम नहीं है. जनार्दन द्विवेदी ने कहा कि आज एक प्रतिष्ठित अखबार ने अजीब सी खबर छापी है. मैं इसे लेकर निराश हूं. उन्होंने आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि इसी रिपोर्ट में नीचे की पंक्तियों में लिखा है कि इन दावों की पुष्टि करने वाला कोई नहीं था तो यह खबर यहीं आधारहीन हो जाती है.

कांग्रेस महासचिव ने बीजेपी पर भी जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा, एक और रिपोर्ट सामने आई है, उसमें एनडीए के एक वरिष्ठ नेता पर इमरजेंसी के दौरान अमेरिकी खुफिया एजेंसी CIA से आर्थिक मदद लेने का आरोप लगा है. तो क्या मैं यह मानूं कि बीजेपी के साथ-साथ इसकी जानकारी जयप्रकाश नारायण को भी थी. जनार्दन द्विवेदी ने कहा कि देश में अफवाहें फैलाई जा रही हैं. उन्होंने बीजेपी नेताओं को सोच-समझकर बयान देने की नसीहत दे डाली. उन्होंने कहा, 'बीजेपी, कांग्रेस की तरह नहीं है. बीजेपी बार-बार अपना चरित्र बदलती है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें