scorecardresearch
 

मोदी सरकार ने बदला राजीव गांधी खेल अभियान योजना का नाम, अब होगा 'खेलो इंडिया'

योजना का नाम बदलने को लेकर खेल मंत्री सर्बानंद सोनेवाल ने कहा कि इस में एक नई सोच है, जो देश को एकजुट करेगी.

शहर हों या योजनाएं, सरकारें बदलते ही नाम बदलने की मुहिम भी शुरू हो जाती है. बुधवार को केंद्र की मोदी सरकार ने राजीव गांधी खेल अभियान योजना का नाम बदल कर 'खेलो इंडिया' कर दिया है. योजना का नाम बदलने को लेकर खेल मंत्री सर्बानंद सोनेवाल ने कहा कि इस में एक नई सोच है, जो देश को एकजुट करेगी.

उन्होंने कहा, 'इसका राजनीति से कोई लेना देना नहीं है. पहले प्रतिस्पर्धा का माहौल नहीं बन पा रहा था, आज पूरा देश एक हो रहा है. कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक युवाओं को बढ़ावा मिल रहा है.' उन्होंने यह भी कहा कि इसका राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है. 'खेलो इंडिया' से देश को बढ़ावा मिलेगा और खिलाड़ियों में खेल भावना बढ़ेगी.

कैबिनेट ने लिए ये महत्वपूर्ण फैसले
केंद्रीय कैबिनेट में बुधवार को क्लाइमेट चेंज को लेकर पेरिस एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर करने को लेकर भी सहमति बनी है. इसके अलावा, आंध्र प्रदेश के राजमुंद्री में नया कृषि विश्वविद्यालय खोलने को भी हरी झंडी दी गई. कैबिनेट ने राज्यों में पौधरोपण के लिए 42000 करोड़ रुपये देने के फैसले पर भी मुहर लगाई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें