scorecardresearch
 

AIIMS में लालू से मिले राहुल गांधी, 4 घंटे बाद ही कट गया रांची का टिकट

एम्स से डिस्चार्ज पर लालू यादव काफी नाराज थे. उन्होंने कहा कि राजनीतिक साजिश के तहत उन्हें एम्स से छुट्टी से वापस भेजा जा रहा है.

X
करीब एक महीने से लालू एम्स में थे भर्ती
करीब एक महीने से लालू एम्स में थे भर्ती

चारा घोटाले में दोषी लालू यादव को एम्स से वापस रांची के रिम्स भेजा दिया गया है. लालू यादव को दिल्ली के एम्स से करीब दोपहर 3 बजे डिस्चार्ज किया गया. यहां से लालू नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचे और शाम 4 बजे राजधानी एक्सप्रेस से रांची के लिए रवाना हो गए हैं. आज ही राहुल गांधी ने करीब 11 बजे एम्स जाकर लालू से मुलाकात की थी और इसके 4 घंटे बाद ही लालू की एम्स से छुट्टी हो गई.

एम्स से नहीं जाना चाहते थे लालू

एम्स से डिस्चार्ज पर लालू यादव काफी नाराज थे. उन्होंने कहा कि राजनीतिक साजिश के तहत उन्हें एम्स से छुट्टी से वापस भेजा जा रहा है. लालू के समर्थकों ने भी एम्स से लेकर रेलवे स्टेशन तक हंगामा किया. हालांकि एम्स ने लालू प्रसाद के स्वास्थ्य में सुधार बताते हुए उन्हें रांची मेडिकल कॉलेज में जाकर उपचार कराने के लिहाज से यात्रा के लिए फिट बताया है.

दरअसल लालू ने एम्स निदेशक को पत्र लिखकर यह आग्रह भी किया है कि रांची मेडिकल कॉलेज में किडनी के उपचार की समुचित व्यवस्था नहीं है इसलिए उनको वहां नहीं भेजा जाए और पूरी तरह स्वस्थ होने तक यहां उपचार चलते रहने दिया जाए.

एम्स परिसर में लालू समर्थकों का हंगामा

एम्स के फैसले पर विरोध जताते हुए लालू के समर्थकों ने अस्पताल परिसर में हंगामा किया, उनकी पार्टी ने आरोप लगाया कि एम्स से जबरन बाहर करवा कर उनके नेता की हत्या की साजिश की जा रही है जबकि वह कई बीमारियों से जूझ रहे हैं. एम्स के सूत्रों का आरोप है कि लालू समर्थकों ने कांच के एक दरवाजे को भी तोड़ दिया, उन्होंने सुरक्षाकर्मियों और एम्स प्रशासन के अधिकारियों के साथ बदसलूकी की.  

लालू रांची जाने के लिए फिट: एम्स

इससे पहले लालू ने अपने पत्र में कहा, 'अगर मुझे एम्स से रांची मेडिकल कॉलेज भेजा जाता है और इससे मेरे जीवन पर कोई खतरा पैदा होता है तो इसकी पूरी जवाबदेही आप लोगों की होगी.' एम्स के एक प्रवक्ता ने बताया कि आयुर्विज्ञान संस्थान में उपचार से लालू की सेहत में काफी सुधार हुआ है और वह अब यात्रा कर सकते हैं. प्रवक्ता ने कहा, 'उनकी सेहत में बहुत सुधार हुआ है और उनके उपचार के लिए गठित मेडिकल बोर्ड की सलाह पर उन्हें लंबे समय तक चलने वाले उपचार के लिए रांची मेडिकल कॉलेज भेजा जा रहा है.'

गौरतलब है कि लालू को किडनी और स्वास्थ्य संबंधी दूसरी समस्याएं हैं. उन्हें 29 मार्च को यहां भर्ती कराया गया था. उधर, राजद प्रवक्ता मनोज झा ने लालू को वापसी रांची भेजने के एम्स प्रशासन के फैसले के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराया. लालू प्रसाद चारा घोटाले के सिलसिले में 23 दिसंबर से जेल की सजा काट रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें