scorecardresearch
 

अध्यक्ष विहीन है कांग्रेस पार्टी, राहुल गांधी ने कहा- जल्द हो चुनाव

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस्तीफा देने की बात पर अड़े हुए हैं और नया अध्यक्ष बनाने की मांग कर रहे हैं. अब बुधवार को राहुल गांधी ने कहा है कि पार्टी में जल्द से जल्द अध्यक्ष पद के लिए चुनाव होना चाहिए, वह अब इस पद पर नहीं हैं.

X
Congress President Rahul Gandhi (File Photo, AP) Congress President Rahul Gandhi (File Photo, AP)

लोकसभा चुनाव का नतीजा आए एक महीने से अधिक हो गया है लेकिन अभी तक कांग्रेस का संकट खत्म नहीं हो रहा है. पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी इस्तीफा देने की बात पर अड़े हुए हैं और नया अध्यक्ष बनाने की मांग कर रहे हैं. बुधवार को राहुल गांधी ने कहा कि पार्टी में जल्द से जल्द अध्यक्ष पद के लिए चुनाव होना चाहिए, वह अब इस पद पर नहीं हैं. इतना ही नहीं, राहुल का मानना है कि पार्टी का नया अध्यक्ष एक महीने पहले ही चुना जाना चाहिए था.

बुधवार को राहुल गांधी ने कहा कि वह किसी भी कीमत पर इस्तीफा वापस लेने के मूड में नहीं हैं. उन्होंने कहा कि जल्द से जल्द इस पद के लिए चुनाव होने चाहिए, मैं इस पद पर नहीं हूं. बता दें कि 23 मई को चुनाव नतीजे आने के बाद राहुल गांधी ने कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में इस्तीफे की पेशकश कर दी थी.

राहुल का मानना है कि पार्टी को नया अध्यक्ष चुनने में काफी देर हो रही है. पार्टी को जल्द से जल्द वर्किंग कमेटी की बैठक बुलाकर इस पर फैसला करना चाहिए. साथ ही उनका कहना है कि इस प्रक्रिया का वह हिस्सा नहीं रहेंगे. उन्होंने कहा कि वर्किंग कमेटी की बैठक कब बुलाई जाएगी, ये भी समिति के सदस्य ही तय करेंगे. मैं बैठक नहीं बुलाउंगा.  

गौरतलब है कि जब से राहुल गांधी ने कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की बात कही है तभी से पार्टी में हलचल मची हुई है. उन्होंने इस बात को लेकर भी नाराजगी व्यक्त की थी कि हार की जिम्मेदारी किसी नेता ने नहीं ली और ना ही उनकी पेशकश के बाद किसी ने इस्तीफा दिया. जिसके बाद पार्टी में सैकड़ों नेताओं ने अपना पद त्याग दिया था, हालांकि इसमें कोई राष्ट्रीय स्तर का नेता शामिल नहीं था.

राहुल गांधी का इस्तीफा वापस लेने के लिए समर्थक उनपर दबाव बना रहे हैं. कार्यकर्ता धरना प्रदर्शन भी कर रहे हैं, दिल्ली में धरने पर बैठे कार्यकर्ताओं से मिलने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल भी पहुंचे थे.

कांग्रेस शासित प्रदेश के मुख्यमंत्रियों ने भी राहुल गांधी से मिलकर इस्तीफा देने की पेशकश की थी. लेकिन राहुल गांधी हर बार सिर्फ एक ही जवाब दे रहे हैं कि वह अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके हैं और अब अपना फैसला नहीं बदलेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें