scorecardresearch
 

अरुणाचल: कई विभागों का जिम्मा संभाल चुके हैं 46 वर्षीय कलिखो पुल

अंजॉ जिले के हवाई से आने वाले कलिखो मुख्यमंत्री गेगांग अपांग के कार्यकाल (2003-2007) में वित्त मंत्री रहे हैं. पांच बच्चों के पिता पुल एक बहुत छोटे से समुदाय कमान मिश्मी से आते हैं.

कांग्रेस से बगावत कर अलग हुए कलिखो पुल अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री बन गए है. शुक्रवार रात राजभवन में उन्होंने शपथ ली. पुल को राज्यपाल जेपी राजखोवा ने पद और गोपनियता की शपथ दिलाई. बीते करीब एक महीने से राज्य में सियासी अस्थिरता का माहौल था.

कलिखो राज्य के आठवें मुख्यमंत्री बने हैं. उनसे पहले कांग्रेस के नबाम तुकी सीएम थे. 46 साल के कलिखो 1995 से लगातार पांच बार विधानसभा चुनावों में जीतते आ रहे हैं.

जानें कौन हैं कलिखो पुल
अंजॉ जिले के हवाई से आने वाले कलिखो मुख्यमंत्री गेगांग अपांग के कार्यकाल (2003-2007) में वित्त मंत्री रहे हैं. पांच बच्चों के पिता पुल एक बहुत छोटे से समुदाय कमान मिश्मी से आते हैं, जिसके शायद 2,500 ही लोग हों. पूर्वी अरुणाचल में अंजॉ जिला के हाउलियांग से विधायक पुल कई बार मंत्री पद संभाल चुके हैं.

कई बार बने मंत्री
1995 से 1997 तक वे वित्त उपमंत्री रहे, उसके बाद 1997-99 तक बिजली राज्य मंत्री रहे. इसके बाद 1999-2002 तक वित्त राज्य मंत्री और 2002 से 2003 तक भूमि प्रबंधन के राज्य मंत्री रहे. 2003 से 2005 तक पुल ने वित्त मंत्रालय संभाला. उन्हें एक उच्चस्तरीय समिति का अध्यक्ष भी बनाया गया साथ ही लगभग एक साल तक वे मुख्यमंत्री के सलाहकार भी रहे.

कलिखो 2006 से 2009 तक फिर वित्त मंत्री बने. 2009 से 2011 तक वे ग्रामीण कार्यों के मंत्री रहे, साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय भी संभाला. 2011 से 2014 के बीच वे सीएम के सलाहकार रहे. 2014 में फिर से उन्हें मंत्री बनाया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें