scorecardresearch
 

अखिलेश पर गरम- माया पर नरम, पढ़ेंः मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दिल्ली से सटे गाजियाबाद में चुनावी रैली को संबोधित किया. इस मौके पर मोदी ने जहां सत्ताधारी समाजवादी पार्टी पर हमले किए वहीं कांग्रेस पर भी चुटकी लेने से नहीं चूके. हालांकि मायावती उनके निशाने से बची रहीं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दिल्ली से सटे गाजियाबाद में चुनावी रैली को संबोधित किया. गाजियाबाद में 11 फरवरी को वोटिंग होनी है यानी कल यहां प्रचार का आखिरी दिन होगा. इस मौके पर मोदी ने जहां सत्ताधारी समाजवादी पार्टी पर हमले किए वहीं कांग्रेस पर भी चुटकी लेने से नहीं चूके. हालांकि मायावती उनके निशाने से बची रहीं.

पांच साल का हिसाब दो अखिलेश
अखिलेश जी आपने पिता जी का क्या किया, चाचा जी का क्या किया, बहुओं का, भतीजों का क्या किया वो तो यहां की जनता जानती है. समय की मांग है कि आप यूपी की जनता के बीच जाकर पिछले पांच साल का हिसाब दीजिए. पांच साल में आपने निराश करके रख दिया, यूपी का विनाश करके रख दिया. मैं उनके भाषण सुनता हूं, बस मोदी की बुराई करते हैं. अरे आपने क्या किया उसका हिसाब क्यों नहीं देते.

सत्ताधारी नेताओं के संरक्षण में क्राइम
आज यूपी में सूरज ढलने के बाद कोई बहन-बेटी अकेली रास्ते पर नहीं निकल सकती. यहां आर्म्स एक्ट के ही 40 हजार केस दर्ज हैं. क्राइम यहां एक सामाजिक बुराई से ज्यादा आपकी पार्टी के नेताओं के आश्रय में चल रहा गोरखधंधा है. यही पुलिसवाले थे लेकिन जब कल्याण सिंह को सेवा का अवसर मिला, राजनाथ जी को सेवा का असवर मिला, तो सारे गुंडे या तो जेल में थे या सुधर गए.

युवाओं को नौकरी का वादा
यूपी में हमारी सरकार बनने के बाद नौकरियों की भर्ती में जो घोटाले हुए हैं, उनकी जांच की जाएगी और जिनका हक बनता है, उन्हें नौकरी पर लगाया जाएगा. केंद्र में मैंने नौकरियों में इंटरव्यू बंद किए हमने सब राज्यों को कहा कि आप भी लागू करें लेकिन यूपी सरकार ने मेरी बात मानी नहीं, वो कागज को फाइल में बंद करके रख दिया क्योंकि अगर इंटरव्यू बंद हो जाएंगे तो अपने पराए का खेल नहीं होगा, करप्शन को रोकने के कई तरीके हैं लेकिन सरकार आंख मूंदकर बैठी हुई है.

भ्रष्टाचार हटाना है तो सरकार हटाओ
आप बताइए यूपी में भ्रष्टाचार चालू रहेगा और मैं दिल्ली में हटाता रहूंगा तो प्रदेश से भ्रष्टाचार जाएगा क्या? प्रदेश से करप्शन हटाना है तो इनको सत्ता से हटाना पड़ेगा, करप्शन के खिलाफ मेरी लड़ाई में मुझे यूपी का साथ चाहिए. मायावती के प्रिय अफसर थे यहां, मुलायम-अखिलेश उनके खिलाफ भाषण देते थे लेकिन जैसे ही उनकी सरकार बनी, वो उनके भी चहेते हो गए लेकिन ये सीबीआई है, मोदी है आज वो जेल में सड़ रहे हैं. ऐसे जितने भी बेईमान हैं वो सब जेल में जाएंगे. जमीन माफियाओं के लिए स्पेशल टास्क फोर्स बनाया जाएगा.

बिल्डर करेगा ठगी तो जेल में कटेगी जिंदगी
राज्यपाल जी ने चिट्ठियां लिखीं, भारत सरकार ने कहा लेकिन यूपी सरकार ने जीडीए का सीएजी से ऑडिट नहीं करवाया. दाल में कुछ काला है, जमीनों का घोटाला है. यूपी में हमारी सरकार बनने के तुरंत बाद जितनी डेवलपमेंट अथॉरिटी हैं सबका सीएजी से ऑडिट का कानून पास करेंगे. आम आदमी एक छोटा सा फ्लैट खरीदना चाहता है लेकिन बिल्डर लॉबी उसे लूट लेती है. ये पीड़ा 3-4 दशक से थी. केंद्र की जिम्मेदारी थी कि वो कानून बनाए. हमने वो कानून बना दिया. आज बिल्डर ने जैसा वादा किया है वैसा मकान उसे देना पड़ेगा वर्ना उसकी जिंदगी जेल में कटेगी.

फसल बीमा योजना और गेहूं की खरीद
फसल बीमा योजना में बुआई न हो पाई हो तो भी और फसल कटने के बाद नष्ट हो गई हो तो भी सरकार पैसा देती है. राजस्थान सरकार 53 फीसदी, महाराष्ट्र 50 और मध्यप्रदेश सरकार 50 फीसदी किसानों का बीमा कर चुकी है लेकिन यूपी सरकार सिर्फ 14 प्रतिशत किसानों तक ये योजना पहुंचा पाई है. जैसे ही हमारी सरकार बनेगी दूसरे ही दिन छोटे किसानों का कर्जा माफ कर दिया जाएगा. पूरे प्रदेश में फसल बीमा योजना पहुंचाने का काम शुरू कर दिया जाएगा. हरियाणा की सरकार किसानों से 60 फीसदी गेंहूं खरीदती है, एमपी की हमारी सरकार 50 फीसदी खरीदती है लेकिन यूपी की सरकार सिर्फ 3 फीसदी खरीदती है क्यों?

गरीबों की सूची तक नहीं बना पाए अखिलेश
भारत सरकार गरीबों को दो वक्त भोजने मिले उसके लिए 25-30 रुपये रोज के हिसाब से देती है. हमने यूपी सरकार से इसके लिए सूची मांगी लेकिन अखिलेश सरकार ये सूची नहीं दे पाई क्योंकि वो सूची बनाते समय जाति देखती है. उससे मिलने वाले वोट देखती है. 750 करोड़ रुपया हमारे पास पड़ा है हम देना चाहते हैं लेकिन सरकार सो रही है.

छोटे व्यापारी डरें नहीं
छोटे व्यापारियों को आयकर विभाग से डरने की जरूरत नहीं. उनके खिलाफ मेरी सरकार का कोई एजेंडा नहीं है. मैंने आयकर विभाग के अफसरों से कहा है मेल करो, एसएमएस से जानकारी मांगो खुद नहीं जाओगे ताकि सौदेबाजी न हो. हम बड़ी मछलियों को पकड़ेंगे जो मोटा माल दबाए हैं जैसे कर्नाटक में एक मंत्री के घर से हमने 150 करोड़ निकाल दिए.

अखिलेश ने किया निराश, यूपी का विनाश
मैं मुलायम सिंह का आदर करने वाला व्यक्ति रहा हूं. राममनोहर लोहिया के लिए हम जैसे गरीबों के मन पर प्रभाव रहा है. अखिलेश जी जब चुनकर आए तो हमें लगता था कि नौजवान है, कुछ पढ़ा-लिखा है जरूर यूपी में कुछ अच्छा करने की कोशिश करेगा लेकिन पांच साल में आपने निराश करके रख दिया, यूपी का विनाश करके रख दिया.

मायावती का जिक्र कम, कांग्रेस पर चुटकी
नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस डूबती हुई नाव है लेकिन अखिलेश इतने डरे हुए हैं कि उन्होंने डूबती नाव पर पैर रख दिया है. तकरीबन पूरे भाषण में मोदी के निशाने पर यूपी सरकार ही रही. पूर्ववर्ती मायावती सरकार और बहुजन समाज पार्टी का जिक्र उन्होंने एक-दो बार ही किया. कांग्रेस को उन्होंने देश को डुबाने वाली पार्टी बताया जो खुद भी डूब गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें