scorecardresearch
 

संसद में मोदी ने उड़ाया मजाक तो राहुल ने ट्विटर पर उछाल दिए ये 5 सवाल

राष्ट्रपति के अभिभाषण पर जवाब के दौरान मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर SCAM के फुल फॉर्म वाले बयान को सोमवार के भूकंप से जोड़ते हुए तंज कसा, तो राहुल ने भी पीएम पर उत्तराखंड में आई आपदा का मजाक उड़ाने का आरोप लगाया.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी

राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद ज्ञापन के दौरान मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसा. राहुल के भूकंप वाले बयान पर चुटकी लेते हुए कहा- भूकंप की धमकी तो पहले सुनी थी, पर आया कल. बता दें कि नोटबंदी पर लोकसभा में बोलने न देने का आरोप लगाते हुए राहुल ने कहा था- मैं बोलूंगा तो भूकंप आ जाएगा.

मोदी के मजाक के बाद राहुल ने दिया जवाब
राहुल गांधी ने ट्वीट किया, 'प्रधानमंत्री उत्तराखंड में आई आपदा का मजाक उड़ाते हैं और आजादी के संघर्ष का अपमान करते हैं, लेकिन उनके पास विपक्ष के सवालों का जवाब नहीं है.

देश आपके जवाबों का इंतजार कर रहा है मोदी जी!
1. 8 नवंबर, 2016 के बाद कितना काला धन बरामद किया गया?
2. देश को कितना आर्थिक नुकसान हुआ और कितने लोगों की नौकरियां गईं?
3. नोटंबदी की वजह से कितने लोगों की मौत हुई और क्या उन्हें मुआवजा दिया गया?
4. नोटबंदी को लेकर पीएम ने विशेषज्ञों, अर्थशास्त्रियों और आरबीआई से सलाह क्यों नहीं ली?
5. 8 नवंबर, 2016 से पहले कितने लोगों ने अपने खातों में 25 लाख रुपए से अधिक रकम जमा की?

मोदी ने कहा था- धमकी पहले दी गई थी, भूकंप कल आया
संसद में पीएम बोले- 'कल भूकंप आया, आ ही गया. आखिर भूकंप आ ही गया. मैं सोच रहा था कि भूकंप आया कैसे? क्योंकि धमकी तो बहुत पहले सुनी थी. कोई तो कारण होगा कि धरती मां इतनी रूठ क्यों गईं? मैं सोच रहा था कि आखिर भूकंप आया क्यूं, जब कोई स्कैम में भी सेवा का भाव देखता है, नम्रता का भाव देखता है, सिर्फ मां ही नहीं धरती मां भी दुखी हो जाती है. तब जाकर भूकंप आता है.'

 

सीएम हरीश रावत ने बताया घृणात्मक बयान
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने उत्तराखंड में आए भूकंप को लेकर पीएम मोदी के बयान की निंदा की है. रावत ने ट्वीट कर रहा कि पीएम को ऐसा बयान देने पर शर्म आनी चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें