scorecardresearch
 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फूंका चुनावी बिगुल: 2019 चुनाव के लिए दिए 19 विजय मंत्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल के पहले ही दिन आगामी लोकसभा चुनाव में राजनीतिक एजेंडा सेट कर दिया है.  पीएम मोदी ने इंटरव्यू के जरिए 19 मंत्र दिए हैं, माना जा रहा है कि इन्हीं मुद्दे को लेकर लोकसभा चुनाव में उतरेंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो-PTI फाइल) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो-PTI फाइल)

साल के पहले दिन ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए राजनीतिक एजेंडा सेट कर दिया है. समाचार एजेंसी ANI को दिए साक्षात्कार में पीएम मोदी ने हर सवाल का बेबाकी से जवाब दिया. माना जा रहा है आगामी लोकसभा चुनाव में इन्हीं मुद्दों के लेकर मोदी जनता के बीच होंगे. पीएम मोदी ने इंटरव्यू के जरिए 19 मंत्र दिए हैं. आइए, उन पर नजर डालें.

1. हाल ही में विधानसभा चुनाव में बीजेपी तीन राज्य हारी है, लेकिन हरियाणा, त्रिपुरा और कश्मीर में स्थानीय चुनाव में बीजेपी को जीत मिली है. हम आने वाले समय में फिर जीतेंगे.

2. पहले के पीएम विदेश जाते थे तो पता ही नहीं चलता था, मैं लोगों से मिलता हूं, काम करता हूं तो पता चलता है.

3. सुप्रीम कोर्ट भी राफेल डील पर अपनी मुहर लगा चुका है, मैं ईमानदारी के रास्ते पर चल कर राष्ट्ररक्षा के लिए जो जरूरी है वो करूंगा.

4. सर्जिकल स्ट्राइक पर पहले ही दिन शक करके सेना के सम्मान से जुड़े मुद्दे पर राजनीति किसने की, ये सब जानते हैं. पीएम का इशारा कांग्रेस की ओर था.

5. दुनिया के कई इस्लामिक देशों में ट्रिपल तलाक प्रतिबंधित है, ये सामाजिक न्याय का मामला है न कि आस्था का. सबरीमाला पर सुप्रीम कोर्ट की महिला जज के फैसले को बारीकी से पढ़ना चाहिए. उन्होंने एक महिला के नाते भी इस फैसले में अपने सुझाव दिए हैं.

6. देश में अगर कर्ज माफी से किसानों का भला होता है तो यह करना चाहिए, लेकिन ऐसा होता नहीं है. हमें ऐसा माहौल बनाना चाहिए कि किसान कर्ज ना लें.  किसानों को इन सबसे बाहर निकालने के लिए आवश्यक है उन्हें सशक्त बनाना और बीज से लेकर बाजार तक सुविधाएं उपलब्ध कराना और हम यह कार्य कर रहें है.

7. जो लोग ये कहते हैं कि मोदी लहर नाम की कोई चीज़ नहीं है वही आज ये कह रहे हैं की मोदी लहर ख़त्म हो गई, इसका अर्थ है कि वो ये तो मान गए कि मोदी लहर थी. लेकिन मेरा मानना है कि लहर केवल जनता की आशा, आकांक्षा और विश्वास की होती है.

8. पीएम ने कहा कि हम अपने घोषणापत्र में कह चुके हैं कि कानूनी प्रक्रिया के द्वारा राम मंदिर मामले का हल निकाला जाएगा. मैं कांग्रेस के वकीलों से कहना चाहूंगा कि इस मामले में अड़ंगे डालना बंद करें और कानून को अपना काम करने दें.

9. उरी की आतंकी घटना से मैं बेहद बैचेन था, मैंने सेना से कहा कि जितना करना चाहिए उतना करिए. सर्जिकल स्ट्राइक की तारीख दो बार बदली गई. सेना को जो जरूरत थी मुहैया कराया गया. तय किया गया कि सूर्योदय तक जवान लौट आएंगे. जब सर्जिकल स्ट्राइक की गई तब मुझे लाइव जानकारी मिल रही थी.

10. जिस परिवार की चार-चार पीढ़ियों ने देश पर राज किया, आज वो पैसों की हेराफेरी में जमानत पर घूम रहे हैं और जो उनकी सेवा में लगे हैं, वो इस ओर से ध्यान भटकाने में लगे हुए है. देश के पूर्व वित्त मंत्री तक आज अदालत के चक्कर काट रहें हैं.

11. कांग्रेस की संस्कृति जातिवाद, परिवारवाद, भ्रष्टाचार और अलोकतांत्रिक है. मैं जब देश को कांग्रेस मुक्त करने की बात करता हूं तो इसके पीछे मेरी सोच देश को इन सबसे मुक्त कराने की ही है.

12. 2018 भारत के लिए बहुत ही उज्ज्वल साल रहा है. खेलों का क्षेत्र हो, विज्ञान हो या कृषि का क्षेत्र, भारत हर क्षेत्र में प्रगति कर रहा है.

13. जीएसटी के कारण टैक्स प्रक्रिया आसान हुई. जीएसटी सरल बने और उपभोक्ताओं के हितों की रक्षा करे इस दिशा में हम लगातार कार्य कर रहें है.

14. देश में जो लोग बोरे भर-भर के नोटे घर में रखे हुए थे. नोटबंदी के कारण वो नोट आज बैंकिंग व्यवस्था में आ गए हैं. नोटबंदी से देश में एक ईमानदारी का माहौल बना है.

15. भारतीय जनता पार्टी सबका साथ-सबका विकास के मंत्र को लेकर जनविश्वास को जीतते हुए प्रगति कर रही है और पूरे आत्मविश्वास से आगे बढ़ रही है. बीजेपी मोदी-शाह के सहारे नहीं चलती है. बीजेपी दुनिया की सबसे पार्टी ये कहना गलत है कि बीजेपी पोलिंग बूथ की मजबूती पर चलती है. मेरा बूथ सबसे मजबूत इसके लिए हमारा कार्यकर्ता 365 दिन लगा रहता है.

16. हमनें कोई भी ऐसा कार्य नहीं किया है जिससे देश की जनता हमारी सरकार से दूर जाने की कोशिश करे, मेरा देश की जनता जनार्दन और देश के युवाओं पर पूरा भरोसा है.

17. आयुष्मान भारत योजना को अभी 100 दिन भी पूरे नहीं हुए हैं और देश के लगभग 6-7 लाख लोग इसका लाभ ले चुके हैं.

18. कांग्रेस सहयोगियों को हमेशा बर्बाद करती है. जबकि हम अपने सहयोगियो को बढ़ने का मौका देते हैं. कांग्रेस के साथ जो दल आ रहे हैं तो कभी न कभी कांग्रेस से अलग होकर बने हैं.

19. 2019 का चुनाव जनता बनाम महागठबंधन के बीच होगा. एक- दूसरे को बचाने के लिए गठबंधन किया जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें