scorecardresearch
 

370 के बाद सीमापार से 84 बार हुई घुसपैठ की कोशिश: लोकसभा में बोले जी किशन रेड्डी

जी किशन रेड्डी ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के विकास पर कहा कि 7वें वेतन आयोग के तहत राज्य सरकारी कर्मचारियों के लिए 4800 करोड़ के भत्ते को मंजूरी दी गई है.

जी किशन रेड्डी (फाइल फोटो) जी किशन रेड्डी (फाइल फोटो)

  • गृह मंत्रालय ने कश्मीर के हालात पर दी जानकारी
  • 59 आतंकवादियों ने कश्मीर में घुसने की कोशिश की

गृह मंत्रालय ने धारा 370 के खात्मे के बाद कश्मीर के हालात पर मंगलवार को लोकसभा में जानकारी दी. सरकार ने बताया कि कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद सीमापार से 84 बार घुसपैठ की कोशिश की गई. गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि अगस्त 2019 से 59 आतंकवादियों ने कश्मीर में घुसने की कोशिश की. 

जी किशन रेड्डी ने कहा कि 7वें वेतन आयोग के तहत जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के सरकारी कर्मचारियों के लिए 4800 करोड़ के भत्ते को मंजूरी दी गई है.

jk-1_121019032937.jpg

jk-2_121019032951.jpg

30 सालों में 22 हजार से ज्यादा आतंकी ढेर

लोकसभा में अपने लिखित जवाब में गृह मंत्रालय ने जानकारी देते हुए बताया कि पिछले 30 सालों में सुरक्षाबलों ने कश्मीर में 22,557 आतंकवादियों को ढेर किया है. यही नहीं लोकसभा में जानकारी देते हुए गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने बताया कि पिछले 15 सालों में 1,011 से ज्यादा आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने ढेर किया है.

लोकसभा में दी गई जानकारी के मुताबिक 2005 से लेकर के 31 अक्टूबर 2019 तक 1,011 आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया है, वहीं 2005 से अक्टूबर 2019 तक 42 आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने पकड़ा है. यही नहीं 2253 आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने घुसपैठ से पहले भेजा उनको भारतीय सीमा के घुसने से भी रोका है.

कश्मीर में स्थिति सामान्य

वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा में कहा कि कश्मीर में स्थिति नॉर्मल है. कश्मीर में एक भी गोली नहीं चली. नेताओं की रिहाई पर अमित शाह ने कहा कि जब प्रशासन को उचित लगेगा उन्हें रिहा कर दिया जाएगा.

फारूक अब्दुल्ला की हिरासत पर अमित शाह ने कहा कि उन्हें हिरासत में लिए हुए 5 से 6 महीने हुए हैं. कांग्रेस ने उनके पिता शेख अब्दुल्ला को 11 साल तक जेल में रखा था.

अमित शाह ने कहा कि हमें बताया गया था कि 370 हटाने के बाद कश्मीर में स्थिति खराब हो सकती है. वहां खून की नदियां बहेंगी. हिंसा होगी. लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ. एक भी गोली नहीं चली. गृह मंत्री ने कहा कि 99.5 प्रतिशत छात्रों ने परीक्षा में हिस्सा लिया. 7 लाख मरीजों का इलाज किया गया. सभी थाने सही से काम कर रहे हैं. धारा 144 हटा ली गई है.

अमित शाह ने कहा कि मोदी सरकार में पंचायत चुनाव हुआ. इसके बाद ब्लॉक के चुनाव हुए. उन्होंने कहा कि हम नेताओं को ज्यादा दिन जेल में नहीं रखना चाहते हैं. प्रशासन को जब उचित लगेगा उन्हें रिहा कर दिया जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें