scorecardresearch
 

सिंधिया बोले- देश ISIS का बन गया गढ़, कार्रवाई करने में सरकार फेल

संसद के बजट सत्र के दूसरे हिस्से में विपक्ष जहां नोटबंदी से लेकर बजट के प्रस्तावों पर सरकार को घेरने की तैयारी में हैं वहीं सरकार कई विधेयकों को लेकर आगे बढ़ने की रणनीति पर काम करेगी.

कई मुद्दों पर सरकार को घेरने की तैयारी में विपक्ष कई मुद्दों पर सरकार को घेरने की तैयारी में विपक्ष

संसद के बजट सत्र का दूसरा हिस्सा आज से शुरू हो रहा है. संसद का ये सत्र काफी हंगामेदार रह सकता है. विपक्ष जहां नोटबंदी से लेकर बजट के प्रस्तावों पर सरकार को घेरने की तैयारी में हैं वहीं सरकार कई विधेयकों को लेकर आगे बढ़ने की रणनीति पर काम करेगी. गुरुवार को गृहमंत्री राजनाथ सिंह लखनऊ एनकाउंटर पर बयान दे सकते हैं. पीएम ने इस सत्र में सकारात्मक चर्चा की उम्मीद जताई. कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि देश आईएसआईएस का गढ़ बन गया है सरकार कार्रवाई करने में फेल है.

पार्लियामेंट की रणनीति को लेकर प्रधानमंत्री की दफ्तर में संसद भवन में कोर ग्रुप की बैठक शुरू हो गई है. इस बैठक में राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी , अरुण जेटली, अनंत कुमार मौजूद हैं. दूसरी तरफ, CPM ने संसद के दोनों सदनों को नोटिस देकर केरल के सीएम के सिर काटने पर इनाम वाले आरएसएस नेता के बयान पर चर्चा की मांग की है. उधर, तृणमूल कांग्रस के सांसदों ने अमेरिका में भारतीयों पर हो रहे नस्ली हमलों के विरोध में संसद में गांधी प्रतिमा के समक्ष विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

उम्मीद है जीएसटी का रास्ता साफ होगा: PM
संसद सत्र से पहले पीएम मोदी ने कहा कि इस सत्र में सकारात्मक चर्चा की उम्मीद है. पीएम ने कहा कि बजट पर सार्थक चर्चा होनी चाहिए. पीएम ने उम्मीद जताई कि जीएसटी का रास्ता साफ होगा. ये एक बड़ा बदलाव है.

क्या बोले पीएम?
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कहना है कि इस सत्र में बजट की बारीकियों पर चर्चा होगी. उम्मीद है कि संवाद का स्तर, चर्चा का स्तर ऊपर जाएगा. गरीबों की बातों पर ध्यान दिया जाएगा. जीएसटी में भी ब्रेकथ्रू होने की संभावना है. क्योंकि राज्यों का सकारात्मक सहयोग रहा है. अलग-अलग पॉलिटिकल पार्टियों का सहयोग रहा है. प्रधानमंत्री का कहना है कि चर्चा से सहमति से आगे बढ़ेंगे और उम्मीद है कि जीएसटी की प्रक्रिया पूर्ण हो जाए. सबका सहयोग रहेगा.

राजनाथ देंगे एनकाउंटर पर बयान
केंन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह संसद में लखनऊ एनकाउंटर, मध्य प्रदेश के शाजापुर में ट्रेन में विस्फोट की घटना और उससे जुड़े तथ्यों पर बयान दे सकते हैं. मंगलवार रात लखनऊ के एक घर में छिपे संदिग्ध आईएसआईएस आतंकवादी को करीब 11 घंटे चले अभियान के बाद मार गिराया गया. इस मामले में 7 आतंकियों को यूपी और एमपी के अल्ग-अलग हिस्सों से गिरफ्तार किया गया और कहा गया कि ये सब आईएसआईएस के नेटवर्क से जुड़े थे. बाद में यूपी पुलिस के आईजी(लॉ एंड ऑर्डर) दलजीत चौधरी ने बयान दिया कि ISIS इनका कोई लिंक साबित नहीं हुआ है बल्कि ये प्रभावित थे और खुद से इन्होंने संगठन खड़ा किया था. विपक्ष इस मुद्दे पर भी सरकार को घेर सकता है.

विपक्ष उठा सकता है ये मुद्दे भी
वहीं कांग्रेस और टीएमसी ने मिड डे मील स्कीम के लिए आधार कार्ड को अनिवार्य बनाये जाने के खिलाफ सदन में चर्चा का नोटिस दिया है. हालांकि सरकार ने इस पर अपनी सफाई दे दी है लेकिन मुद्दा दोनों सदनों खासकर राज्यसभा में उठ सकता है. दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में हुई हिंसा को लेकर भी विपक्ष सरकार पर हमला कर सकती है.

संसद के आसपास बढ़ाई गई सुरक्षा
लखनऊ एनकाउंटर के बाद दिल्ली पुलिस ने राजधानी में अलर्ट जारी किया है. खुरासान गुट के फरार दो आतंकी दिल्ली की तरफ आने का संदेह जताया गया है. इसके बाद संसद के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी गई है. गुरुवार से संसद का सत्र शुरू हो रहा है. इन आतंकियो के पास विस्फोटक होने का संदेह है. सभी जिला पुलिस उपायुक्तों को मॉल और भीड़भाड़ वाली जगहों और धार्मिक स्थलों पर कड़ी निगरानी करने को कहा गया है. पहाडगंज और आसपास के होटलों में स्पेशल सेल की जांच शुरू हो गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें