scorecardresearch
 

दिग्विजय ने दिया फॉर्मूला, ऐसे 19 रुपये सस्ता हो सकता है पेट्रोल

कमलनाथ ने मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार ने 10 लाख करोड़ रुपये एकत्रित किए हैं. सरकार में अपने कार्यकाल में 12 बार सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई है.

पंचायत आजतक में दिग्विजय सिंह पंचायत आजतक में दिग्विजय सिंह

वरिष्ठ कांग्रेस नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने आजतक पंचायत कार्यक्रम में तेल के दाम में भारी कटौती का मंत्र दिया. उन्होंने कहा कि सरकार अगर सेंट्रल एक्साइज टैक्स में कमी लाए तो तेल के दाम 19 रुपये तक कम हो जाएंगे.

उन्होंने कहा कि पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स पर बीजेपी ने चार साल के अंदर सवा दो सौ सेंट्रल एक्साइज टैक्स बढ़ाया. बीजेपी ने डीजल पर 440 फीसदी टैक्स बढ़ाया, ये किसकी जेब से गया. जबकि पेट्रोलियम के भाव 73 फीसदी गिर गए. लेकिन फिर भी आपने तेल के दामों में बढ़ोतरी की.

उन्होंने मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार ने 10 लाख करोड़ रुपये एकत्रित किए हैं. सरकार में अपने कार्यकाल में 12 बार सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई है.

बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दिग्विजय सिंह से कहा कि राज्य सरकार अगर वैट कम कर दें तो तेल दाम कम हो जाएंगे. इसी के जवाब में दिग्विजय सिंह ने कहा कि मोदी सरकार अगर सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी और वैट कम कर दे तो पेट्रोल के दाम 19 रुपये तक और डीजल के दाम 18 रुपये तक कम हो जाएंगे.

जावड़ेकर ने दिग्विजय सिंह के आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा, 'कांग्रेस बार बार पूछती है कि सारा पैसा कहां गया, मैं आपको बता दूं कि सारा पैसा सरकार के खजाने में गया और वहां से जनता के हित में काम हुआ. सड़क और हाईवे बनाने के साथ अन्य योजनाओं में लगा.'

बता दें कि तेल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी जारी है. ज्यादातर शहरों में पेट्रोल ने 80 का आंकड़ा पार कर लिया है. मुंबई में यह 85 के पार निकल गया. डीजल का भी यही हाल है. दिल्ली में गुरुवार को डीजल ने 68 का आंकड़ा पार कर लिया है. मुंबई में यह 72.96 रुपये पर पहुंच गया.

मोदी सरकार के चार साल पूरे होने के मौके पर उनके कार्यकाल के लेखा-जोखा पर बातचीत के लिए पंचायत बुलाई है. शनिवार को दिल्ली के ताज पैलेस होटल में आयोजित इस कार्यक्रम में सरकार और विपक्ष के तमाम नेता केंद्र सरकार के कार्यकाल का आंकलन कर रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें