scorecardresearch
 

चिदंबरम ने दिए संकेत, 2019 में बनी कांग्रेस सरकार तो नहीं बनेंगे वित्तमंत्री

वहीं पी चिदंबरम ने इशारों इशारों में यह ऐलान कर दिया कि अगर 2019 में कांग्रेस सरकार बनती भी है तो वह वित्त मंत्री नहीं बनेंगे. 4 बार वित्त मंत्री रह चुके पी चिदंबरम से जब यह पूछा गया कि 2019 में किसकी सरकार बनेगी और क्या राहुल गांधी पीएम बनेंगे. इस पर चिदंबरम ने कहा कि वे भव‍िष्यवक्ता नहीं हैं, ऐसे में उन्हें नहीं पता 2019 में कौन पीएम बनेगा.

पी चिदंबरम पी चिदंबरम

पंचायत आजतक के अहम सत्र मोदी शासन के चार साल में पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने शिरकत की. इस सत्र का संचालन राजदीप सरदेसाई ने किया. इस सत्र के दौरान चिदंबरम ने कहा कि मोदी सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान नोटबंदी का फैसला लेकर देश की अर्थव्यवस्था को सबसे बड़ा नुकसान पहुंचाने का काम किया है.

वहीं पी चिदंबरम ने इशारों-इशारों में यह ऐलान कर दिया कि अगर 2019 में कांग्रेस सरकार बनती भी है तो वह वित्त मंत्री नहीं बनेंगे. 4 बार वित्त मंत्री रह चुके पी चिदंबरम से जब यह पूछा गया कि 2019 में किसकी सरकार बनेगी और क्या राहुल गांधी पीएम बनेंगे. इस पर चिदंबरम ने कहा कि वे भव‍िष्यवक्ता नहीं हैं, ऐसे में उन्हें नहीं पता 2019 में कौन पीएम बनेगा. हालांकि उन्हें यह जरूर पता है कि कौन वित्त मंत्री नहीं बनेगा. चिदंबरम के इस बयान से कयास लग रहे हैं कि वह 2019 में कांग्रेस की सरकार बनने के बावजूद भी वित्त मंत्री का पद नहीं संभालेंगे.  

वहीं चिदंबरम ने इससे पहले कहा कि नोटबंदी से पहले देश की अर्थव्यवस्था 8 फीसदी से अधिक की रफ्तार के साथ दौड़ रही थी. लेकिन नोटबंदी के दुर्भाग्यपूर्ण फैसले से देश की ग्रोथ 7 फीसदी पर पहुंच गई और कुछ ही दिनों में वह 7 फीसदी के नीचे चली गई. क्या नोटबंदी का फैसला सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था की रफ्तार को कम करने के लिए किया था? चिदंबरम ने कहा कि वैश्विक स्तर पर अर्थशास्त्री दावा करते हैं कि नोटबंदी के फैसले से भारतीय अर्थव्यवस्था को सिर्फ नुकसान पहुंचा है.

आपको बता दें कि आज मोदी सरकार के चार साल पूरे हो गए हैं. इस मौके पर जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत उनकी कैबिनेट के मंत्री और बीजेपी नेता सरकार की उपलब्धियां जनता सामने रखेंगे, वहीं 'आजतक' ने भी इस अवसर पर पंचायत बुलाई है.

'आजतक' के इस मंच पर केंद्र सरकार के वरिष्ठतम मंत्रियों समेत विपक्ष के कई बड़े नेता शिरकत करेंगे. नई दिल्ली के होटल ताज पैलेस में दिनभर चलने वाली इस पंचायत में मोदी सरकार के मंत्री अपना-अपना रिपोर्ट कार्ड पेश करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें