scorecardresearch
 

NIA ने JIT से कहा- भारतीय जांच टीम को PAK जाने की इजाजत मिले

NIA ने JIT से पाकिस्तान जाने की इजाजत देने की मांग की है. बुधवार को पाकिस्तान JIT दोबारा NIA हेडक्वार्टर पहुंची है. पठानकोट से लौटने के बाद आज NIA और JIT के अधिकारी अभी तक हुई जांच पर बातचीत करेंगे.

X
पाकिस्तानी जांच कमेटी NIA हेडक्वार्टर में
पाकिस्तानी जांच कमेटी NIA हेडक्वार्टर में

NIA ने JIT से पाकिस्तान जाने की इजाजत देने की मांग की है. NIA के डीजी शरद कुमार ने इसकी पुष्टि की है. NIA पाकिस्तान जाकर जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मौलाना मसूद अजहर और उसके भाई रउफ से पूछताछ कर पठानकोट हमले में उनकी भूमिका की जांच करना चाहती है.

बुधवार को पाकिस्तान JIT दोबारा NIA हेडक्वार्टर पहुंची है. पठानकोट से लौटने के बाद आज NIA और JIT के अधिकारी अभी तक हुई जांच पर बातचीत करेंगे.

इसके अलावा एसपी सलविंदर सिंह सहित तीन लोगों से JIT सवाल करेगी. हालांकि JIT को इनसे सीधे पूछताछ करने की इजाजत नहीं है. NIA ने भी जांच से जुड़े हुए सवालों की एक लिस्ट तैयार की है. यह लिस्ट JIT के सामने रखी जाएगी. NIA का सबसे बड़ा सवाल यह होगा कि पाकिस्तान में बैठे पठानकोट हमले के मास्टरमाइंड और जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर और उसके भाई राउफ को लेकर अभी तक क्या कार्रवाई की गई है?

NIA की मौजूदगी में होगी एसपी से पूछताछ
इसके साथ ही JIT से यह भी सवाल किया जाएगा कि अभी तक जो सबूत आतंकियों से मिले हैं उस पर पाकिस्तान किस तरह से कार्रवाई करेगा? देर शाम तक गुरदासपुर एसपी सलविंदर सिंह, उनके दोस्त राजेश वर्मा और कुक मदन गोपाल से JIT सवाल-जवाब कर सकती है. लेकिन ये पूछताछ NIA के अधिकारियों के सामने होगी. सीधे सवाल पूछे जाने की इजाजत न होने की वजह से JIT के लिखित सवालों को NIA गवाहों से पूछेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें