scorecardresearch
 

दलित छात्र खुदकुशी मामला: केजरीवाल ने स्मृति ईरानी और बंडारू दत्तात्रेय को हटाने की मांग की

हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के छात्र रोहित वेमुला की खुदकुशी के मामले पर गरमाई सियासत में अब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी शामिल हो गए हैं.

X
छात्र के सुसाइड से गरमाई राजनीति छात्र के सुसाइड से गरमाई राजनीति

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी पहुंचे हैं. केजरीवाल ने वहां प्रदर्शन कर रहे छात्रों और खुदकुशी करने वाले दलित छात्र रोहित वेमुला के परिवार से मुलाकात की. मुलाकात के बाद अरविंद केजरीवाल ने यूनिवर्सिटी के वीसी को हटाने की मांग की और पीएचडी छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या के कारणों और दबाव के आरोपों की निष्पक्ष जांच कराने की मांग की. केजरीवाल के साथ पार्टी नेता आशीष खेतान भी हैं.

स्मृति ईरानी के खिलाफ जांच हो
अरविंद केजरीवाल ने केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी पर भी हमला बोला. केजरीवाल ने कहा कि स्मृति ईरानी ने अपने पत्र में छात्रों के लिए राष्ट्रविरोधी और जातिगत शब्दों का इस्तेमाल किया. इसलिए उनके खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए. केजरीवाल ने कहा कि स्मृति ईरानी, बंडारू दत्तात्रेय और यूनिवर्सिटी के वीसी अप्पा राव के कॉल रिकॉर्ड्स की जांच होनी चाहिए.

आरक्षण और अंबेडकर छात्र संघ के समर्थन में उतरे केजरीवाल
सामाजिक न्याय के लिए काम करने वाली JAC के साथ-साथ अंबेडकर छात्र संगठन के काम की तारीफ करते हुए केजरीवाल ने कहा कि वह भी अंबेडकर को पसंद करते हैं. उन्होंने कहा कि यदि छात्र संघ अपना आंदोलन दिल्ली तक लाना चाहता है तो वह उनका समर्थन करेंगे. उन्होंने ये भी कहा कि वह आरक्षण नीति का समर्थन भी करेंगे. केजरीवाल ने मोदी सरकार पर बदले की भावना के साथ काम करने का आरोप लगाया.

पीएम मोदी से की मंत्रियों को हटाने की मांग
आम आदमी पार्टी ने दलित छात्र की आत्महत्या के मामले को लेकर केंद्रीय मंत्री के दबाव की बात सामने आने के बाद केंद्र की मोदी सरकार पर हमले तेज कर दिए हैं. अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी से मांग की कि इस मामले में नाम सामने आने के बाद दोनों केंद्रीय मंत्रियों बंडारू दत्तात्रेय और स्मृति ईरानी को तुरंत हटाया जाए.

आशीष खेतान का खुला खत
इससे पहले आम आदमी पार्टी के नेता आशीष खेतान ने हैदराबाद के दलित छात्र रोहित वेमुला की खुदकुशी के मामले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को खुला खत लिखा था. उन्होंने अपने पत्र की शुरुआत रोहित की खुदकुशी को हत्या बताकर की. उन्होंने कहा कि अन्याय और नफरत ने रोहित की जान ली है.

आरोपों और अपील से भरा खत
आशीष खेतान ने आरोप लगाया है मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी द्वारा यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर को लिखे पत्र के बाद इन छात्रों का मासिक वजीफा भी रोक दिया गया. खेतान ने पत्र में जिक्र किया है कि एबीवीपी के साथ इन छात्रों का मतभेद था जिसे यूनिवर्सिटी प्रशासन के बीच बचाव से दूर किया जा सकता था लेकिन केंद्रीय मंत्री दत्तात्रेय ने मामले को हवा दी और इसे राजनीतिक मुद्दा बना लिया. खेतान ने पत्र में प्रधानमंत्री से इस मामले पर बोलने और कड़ी कार्रवाई की अपील की. इससे पहले अरविंद केजरीवाल ने रोहित वेमुला की आत्महत्या को लोकतंत्र की हत्या करार देते हुए पीएम मोदी से इस मामले में कार्रवाई करने की मांग की थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें