scorecardresearch
 

Poll Result: पब्लिक चाहती है पाक की 'कुटाई'

नरेंद्र मोदी ने जब पीएम पद के शपथ ग्रहण समारोह में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को न्योता भेजा और शरीफ शराफत दिखाते हुए भारत आए, तो ऐसा लगा कि दोनों देशों के बीच रिश्ते की कड़वाहट अब कम होने वाली है. पर कुछ ही समय बाद हुआ इसके ठीक उलट.

तस्वीरें बयां कर रही हैं पाकिस्तान की नापाक करतूत तस्वीरें बयां कर रही हैं पाकिस्तान की नापाक करतूत
15

नरेंद्र मोदी ने जब पीएम पद के शपथ ग्रहण समारोह में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को न्योता भेजा और शरीफ शराफत दिखाते हुए भारत आए, तो ऐसा लगा कि दोनों देशों के बीच रिश्ते की कड़वाहट अब कम होने वाली है. पर कुछ ही समय बाद हुआ इसके ठीक उलट. पाकिस्तान ने सरहद पर गोलीबारी तेज कर दी. सीजफायर का उल्लंघन करना पाकिस्तान के लिए रोजमर्रा की बात हो गई. भारत के निर्दोष नागरिक भी पड़ोसी देश की गोलियों के शिकार हो रहे हैं. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या भारत को अपनी रक्षा के लिए पाकिस्तान के खिलाफ ठोस सैन्य कार्रवाई करनी चाहिए?

aajtak.in ने इसी मसले पर 2 ऑनलाइन सर्वे कराए, जिसके नतीजे उम्मीद के मुताबिक ही आए हैं. एक सवाल पूछा गया, 'पाकिस्‍तान की ओर से रोज हो रही गोलीबारी पर बीजेपी नेता मुख्‍तार अब्‍बास नकवी बोले- अब पाक को मिठाई की नहीं, कुटाई की जरूरत है. क्‍या वाकई अब पाक के लिए ऐसा जरूरी हो गया है?' इस सवाल पर कुल 7352 लोगों ने वोट डाले, जिनमें 7210 लोगों का जवाब रहा 'हां'. यानी वोट करने वालों में 98.1 फीसदी लोगों ने पाकिस्तान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के पक्ष में वोट दिया. केवल 142 लोगों (1.9 फीसदी) को लगा कि पाकिस्तान 'मिठाई' से मान जाएगा.

 जब 'मिठाई' से न बने बात, तो...
एक और सवाल पूछा गया, 'क्‍या अब समय आ गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाक को अपना 56 इंच का सीना दिखाएं?' इस सवाल पर करीब 15 घंटों के अंदर ही 2729 वोट पड़े. 2446 लोगों (89.6 फीसदी) का जवाब रहा 'हां' , जबकि 283 लोगों (10.4 फीसदी) का जवाब रहा 'नहीं'.

 PM मोदी की ओर देख रही है पब्लिक
ऑनलाइन सर्वे से देशवासियों का मिजाज स्पष्ट हो जा रहा है. लंबे अरसे तक सहनशीलता दिखाते-दिखाते भारत की छवि एक 'निरीह राष्ट्र' जैसी न हो जाए, इसलिए लोग पाकिस्तान को 'करारा जवाब' दिए जाने के पक्ष में हैं. खैर, यह करारा जवाब क्या हो, यह तो आखिरकार देश के हुक्मरानों को ही तय करना है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें