scorecardresearch
 

अब एयर इंडिया के पायलट बाेले- हमें भी चाहिए वन रैंक वन पेंशन

पूर्व सैनिकों के वन रैंक वन पेंशन के मुद्दे को सुलझे अभी ज्यादा वक्त नहीं हुआ था कि अब केंद्र सरकार से एयर इंडिया के पायलटों ने OROP की मांग की है. एयर इंडिया के चेयरमैन अश्विनी लोहानी ने इस मुद्दे पर पायलटों के साथ कई बैठकें कीं और उनकी जायज मांगों को हल करने का भरोसा दिया. साथ ही उनसे हड़ताल पर न जाने की बात भी कही.

X
एयर इंडिया
एयर इंडिया

पूर्व सैनिकों के वन रैंक वन पेंशन के मुद्दे को सुलझे अभी ज्यादा वक्त नहीं हुआ था कि अब केंद्र सरकार से एयर इंडिया के पायलटों ने OROP की मांग की है. एयर इंडिया के चेयरमैन अश्विनी लोहानी ने इस मुद्दे पर पायलटों के साथ कई बैठकें कीं और उनकी जायज मांगों को हल करने का भरोसा दिया. साथ ही उनसे हड़ताल पर न जाने की बात भी कही.

इंडियन कमर्शियल पायलट एसोसिएशन ने इस मुद्दे पर गुप्त वोटिंग भी करवाई. हालांकि ये वोटिंग रविवार तक खत्म की जानी थी लेकिन इसकी अवधि बढ़ाकर बुधवार कर दी गई है ताकि विदेश गए पायलट भारत वापस लौटकर अपना मत दे सके. इस वोटिंग के जरिए ये फैसला कियै जाएगा कि क्या सरकार द्वारा कमांडरों को वर्कमैन की श्रेणी से बाहर किए जाने को लेकर हड़ताल की जाए या नहीं.

पायलट की बैठक में ये बात सामने आई की पिछले आठ वर्षों से वेतन को लेकर उठी समस्या इंडियन एयरलाइंस और एयर इंडिया के मर्जर के बाद सामने आई है. हफ्तेभर चली बैठकों के बाद लोहानी ने बताया कि एयर इंडिया का पक्ष मजबूत है. उन्होंने कहा कि कार्यस्थल पर तारतम्यता ज्यादा जरूरी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें