scorecardresearch
 

नीतीश पर गरजे लालू, कहा- बिहार की जनता को ठगा

राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने कहा है कि नीतीश कुमार मतलबी नेता हैं और वो हमेशा से बिहार की जनता को ठगते रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि नीतीश केवल मुस्लिम वोट बैंक के लालच में आज मोदी का विरोध कर रहे हैं.

बीजेपी-जेडीयू के तल्‍ख होते रिश्‍तों के बीच बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री और राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर वार करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे. शनिवार को एक बार फिर लालू ने बाकायदा प्रेस कॉन्‍फ्रेंस बुलाकर नीतीश पर निशाना साधा.

लालू ने कहा कि नीतीश कुमार मतलबी नेता हैं और वो हमेशा से बिहार की जनता को ठगते रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि नीतीश केवल मुस्लिम वोट बैंक के लालच में आज मोदी का विरोध कर रहे हैं. राजद प्रमुख ने ये भी कहा कि जेडीयू के कई विधायक बीजेपी में शामिल हो सकते हैं. उन्‍होंने कहा कि बीजेपी-जेडीयू की फूट में राजद का रोल नहीं. उन्‍होंने नीतीश पर बिहार के विकास मॉडल का झूठा प्रचार करने का आरोप भी लगाया और कहा कि बिहार की जनता सबको धो डालेगी.

दंगे के बाद भी पद से चिपके रहे नीतीश
लालू ने नीतीश कुमार को चिपकू बताते हुए कहा कि वे केवल सत्ता से चिपके रहना चाहते हैं. उन्होंने नीतीश पर विधायकों की खरीद-फरोख्त करने का भी आरोप लगाया. पटना में पत्रकारों से चर्चा करते हुए अपने चिर-परिचित अंदाज में लालू ने कहा कि आज नीतीश गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी का विरोध कर रहे हैं. उन्होंने तब विरोध क्यों नहीं किया था जब वे रेल मंत्री थे.

उन्होंने इसे नाटक करार देते हुए कहा कि वे सिर्फ मुसलमानों का वोट हासिल करने के लिए ऐसा कर रहे हैं. लालू ने नीतीश को लालची, मतलबी और सत्ता से चिपकू बताते हुए कहा कि गुजरात में जब ट्रेन में हादसा हुआ तो उस समय जांच नहीं कराई. उन्होंने स्पष्ट करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और जनता दल यूनाइटेड (जद-यू) के गठबंधन टूटने में राजद की कोई भूमिका नहीं है.

उन्होंने नीतीश को अवसरवादी बताते हुए कहा कि केवल मुसलमानों का वोट लेने के लिए वे मोदी के बहाने गठबंधन तोड़ रहे हैं. लालू ने कहा कि गुजरात दंगे के समय रामविलास पासवान मंत्रिमंडल से हट गए थे, लेकिन नीतीश सत्ता से चिपके रहे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें