scorecardresearch
 

असम में नरसंहार के बीच फैमिली संग मौजमस्ती कर रहे हैं मुख्य सचिव

असम के मुख्यमंत्री तरुण गोगोई उग्रवादियों के नरसंहार के बावजूद प्रदेश के मुख्य सचिव जीतेश खोसला की मौजमस्ती से खासे नाराज हैं. गोगोई ने अपनी नाराजगी जताते हुए कहा कि जीतेश खोसला ने जो किया वह सही नहीं है और उन्हें तत्काल छुट्टी से वापस आ जाना चाहिए. खोसला इन दिनों अपने परिवार के साथ काजीरंगा में छुट्टियां मना रहे हैं, जबकि मंगलवार को एनडीएफबी के उग्रवादियों ने तीन जिलों में आमजन पर बड़े हमले को अंजाम दिया है.

X
तरुण गोगोई की फाइल फोटो
तरुण गोगोई की फाइल फोटो

असम के मुख्यमंत्री तरुण गोगोई उग्रवादियों के नरसंहार के बावजूद प्रदेश के मुख्य सचिव जीतेश खोसला की मौजमस्ती से खासे नाराज हैं. गोगोई ने अपनी नाराजगी जताते हुए कहा कि जीतेश खोसला ने जो किया वह सही नहीं है और उन्हें तत्काल छुट्टी से वापस आ जाना चाहिए. खोसला इन दिनों अपने परिवार के साथ काजीरंगा में छुट्टियां मना रहे हैं, जबकि मंगलवार को एनडीएफबी के उग्रवादियों ने तीन जिलों में आमजन पर बड़े हमले को अंजाम दिया है.

गोगोई ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘मुख्य सचिव ने यह सही नहीं किया. उन्हें तत्काल वापस आना चाहिए.’ स्थानीय टीवी चैनलों पर खोसला को बुधवार सुबह काजीरंगा पार्क में अपने परिवार के साथ हाथी की सवारी करते हुए दिखाया गया है. असम के सोनितपुर, कोकराझाड़ और चिरांग जिलों में छह स्थानों पर मंगलवार रात एनडीएफबी (एस) के उग्रवादियों के हमलों में कम से कम 65 लोगों की मौत हो गई और 15 अन्य घायल हो गए.

बुधवार सुबह सोनितपुर में हिंसक प्रदर्शनकारियों पर पुलिस की गोलीबारी में भी तीन लोग मारे गए हैं. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार हमलों के बाद करीब 2500 लोग अपने घर छोड़ चुके हैं और राहत शिविरों में रह रहे हैं.

-इनपुट भाषा से

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें