scorecardresearch
 

ओवैसी बोले- नोटबंदी के बाद एक-एक पैसे के लिए तरस रहे मुस्लिम, BJP ने भी दिया जवाब

ओवैसी ने पीएम मोदी को तानाशाह करार दिया. उन्होंने कहा कि नोटबंदी को लेकर तानाशाह मोदी ने अपने अहंकार की तुष्टि के लिए हर घर में तबाही मचाई है. ओवैसी ने कहा कि 8 नवंबर को की गई नोटबंदी के साथ मोदी जिस तरह की क्रांति लाने का सपना देख रहे हैं, वह कभी भी नहीं होगी, क्योंकि नोटबंदी लोगों के लिए परेशानी का सबब बन गई है.

ओवैसी ओवैसी

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलीमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने नोटबंदी को लेकर केंद्र सरकार पर मुसलमानों को परेशान करने का आरोप लगाया है. हैदराबाद में एक रैली को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा, 'मोदी सरकार नोटबंदी लागू कर मुसलमानों को परेशान कर रही है. मुस्लिम बहुल इलाकों के एटीएम खाली पड़े हैं. वहां नए नोट नहीं पहुंचाए जा रहे हैं. ओवैसी के बयान पर बीजेपी नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ पीएम मोदी की जंग का पहले सियासीकरण हुई और अब सांप्रदायिकीकरण हो रहा है.

एक-एक पैसे के लिए तरस रहे मुस्लिम
ओवैसी ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, 'नोटबंदी के बाद से मुसलमान एक-एक पैसे के लिए तरस रहे हैं. जिन इलाकों में मुसलमान रहते हैं वहां बैंक भी नहीं खोला जाता है. ओवैसी ने कहा कि पिछले दिनों बैंकों व एटीएम से पैसे निकलवाते समय कई लोग मर गए. लेकिन, सरकार अभी भी अपनी जिद पर अड़ी हुई है.'

तानाशाह मोदी की वजह से हर घर में मची तबाही
ओवैसी ने पीएम मोदी को तानाशाह करार दिया. उन्होंने कहा कि नोटबंदी को लेकर तानाशाह मोदी ने अपने अहंकार की तुष्टि के लिए हर घर में तबाही मचाई है. ओवैसी ने कहा कि 8 नवंबर को की गई नोटबंदी के साथ मोदी जिस तरह की क्रांति लाने का सपना देख रहे हैं, वह कभी भी नहीं होगी, क्योंकि नोटबंदी लोगों के लिए परेशानी का सबब बन गई है.

मोदी को सत्ता से बाहर करने के लिए कतार में खड़ी होगी जनता
एआईएमआईएम अध्यक्ष ने कहा कि नोटबंदी की वजह से मोदी ने एक झटके में गरीबों और वंचित वर्गो की रोजी-रोटी बंद कर दी है. लोग अपना काम छोड़कर बैंकों और एटीएम की लाइन में लगे हैं. बहुत जल्द वे वोटिंग के दिन तानाशाह मोदी को सत्ता से निकालने के लिए भी लाइन में खड़े होंगे.

बीजेपी बोली-फैसले का हो रहा सांप्रदायिकीकरण
ओवैसी को जवाब देते हुए बीजेपी नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि देशहित में पीएम मोदी ने बड़े नोटों को बंद करने का फैसला लिया है. पहले इस फैसले पर सियासत हुई. अब इसे सांप्रदायिकता का रूप दिया जा रहा है. लेकिन, इसके बाद भी हम पीछे नहीं हटेंगे. कैशलेस सोसाइटी सभी वर्गो के हित में है.

मुस्लिम बहुल इलाकों में दी जाएगी कैशलेस ट्रांजेक्शन की ट्रेनिंग
मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि वह संसद का सत्र खत्म होने के बाद संबंधित अधिकारियों के साथ अल्पसंख्यक बहुल इलाकों जाएंगे और वहां कैशलेस ट्रांजेक्शन का कैंप लगाया जाएगा. ताकि, मुस्लिम भाइयों को डिजिटल ट्रांजेक्शन के बारे में बताया जा सके. नकवी ने कहा कि ओवैसी से गुजारिश है कि वो हमें ऐसे एरिया के बारे में बताएं, जहां के एटीएम में कैश नहीं पहुंचता. ओवैसी चाहे तो वो भी ट्रेनिंग कैंप का हिस्सा बन सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें