scorecardresearch
 

सांसद ई. अहमद का निधन, राष्ट्रपति की स्पीच के दौरान पड़ा था दिल का दौरा

सांसद ई अहमद का निधन हो गया है. मंगलवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान संसद में उन्हें दिल का दौरा पड़ा था और वे कुर्सी से गिर पड़े थे. राम मनोहर हॉस्पिटल में उनका निधन हो गया. जिसके बाद उन्हें राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था. कई घंटों के इलाज के बाद रात 2:15 बजे डॉक्टरों ने परिवार वालों को बताया कि उनकी मृत्यु हो गयी है.

ई अहमद ई अहमद

सांसद ई अहमद का निधन हो गया है. मंगलवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान संसद में उन्हें दिल का दौरा पड़ा था और वे कुर्सी से गिर पड़े थे. राम मनोहर हॉस्पिटल में उनका निधन हो गया. जिसके बाद उन्हें राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था. कई घंटों के इलाज के बाद रात 2:15 बजे डॉक्टरों ने परिवार वालों को बताया कि उनकी मृत्यु हो गयी है. जिसके बाद उनका परिवार डेड बॉडी लेकर तीन मूर्ति मार्ग गया. जहां पर सुबह 8-11 बजे तक ई अहमद की बॉडी को उनके आवास 9-तीन मूर्ति मार्ग पर रखा जाएगा. उसके बाद उनके बॉडी को केरल ले जाया जाएगा

ई अहमद मुस्लिम लीग से ताल्लुक रखने वाले सांसद थे. बता दें कि मंगलवार (31 जनवरी) से बजट सत्र की शुरुआत हो गई. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी द्वारा दोनों सदनों के संयुक्त सत्र को संबोधित करने के दौरान उन्हें दिल का दौरा पड़ा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ई अहमद के निधन पर शोक जताया है. अपने संदेश में पीएम मोदी ने कहा कि वे लोगों के हित के लिए हमेशा सक्रिय रहे.

कौन थे सांसद ई. अहमद?
ई. अहमद केरल की मालाप्पुरम लोकसभा सीट से सांसद थे. वे इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे. मनमोहन सिंह की सरकार में विदेश राज्यमंत्री थे. मुस्लिम लीग से सांसद ई अहमद यूपीए सरकार के दौरान रेल राज्य मंत्री भी रहे. ई अहमद का जन्म 29 अप्रैल 1938 को हुआ था. अहमद केरल विधानसभा से 1967, 1977, 1980, 1982 और 1987 में विधायक चुने गए. वह 1982 से 1987 तक केरल सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रहे. अहमद 1991, 1996, 1998, 1999, 2004 और 2009 में लोकसभा के लिए चुने गए. वह 2004 से 2009 के बीच विदेश राज्यमंत्री भी रहे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें