scorecardresearch
 

भीषण भूकंप के बाद नेपाल में आपातकाल घोषित, अब तक 1500 से ज्यादा लोगों की मौत की पुष्टि

नेपाल में 7.9 तीव्रता के जबरदस्त भूकंप के बाद भारी तबाही की खबर आ रही है. भूकंप के झटकों का केंद्र नेपाल के लामजुम में बताया जा रहा है. भयंकर तबाही के बाद नेपाल में आपातकाल घोषित कर दिया गया है. भूकंप की वजह से नेपाल सहित पूरे उत्तर भारत में भूकंप के तगड़े झटके महसूस किए गए. नेपाल में अभी तक करीब 1500 लोगों की मौत की पुष्टि की जा चुकी है. मौत का आंकड़ा तेजी से आगे बढ़ रहा है.

X
भूकंप के बाद की एक तस्वीर भूकंप के बाद की एक तस्वीर

नेपाल में 7.9 तीव्रता के जबरदस्त भूकंप के बाद भारी तबाही की खबर आ रही है. भूकंप के झटकों का केंद्र नेपाल के लामजुम में बताया जा रहा है. भयंकर तबाही के बाद नेपाल में आपातकाल घोषित कर दिया गया है. भूकंप की वजह से नेपाल सहित पूरे उत्तर भारत में भूकंप के तगड़े झटके महसूस किए गए. नेपाल में अभी तक करीब 1500 लोगों की मौत की पुष्टि की जा चुकी है. मौत का आंकड़ा तेजी से आगे बढ़ रहा है. भूकंप का वीडियो

नेपाल में तबाही का मंजर बेहद दर्दनाक है. अभी तक 1500 लोगों की मौत की खबर है जिसमें सबसे ज्यादा मौत काठमांडू में हुई है. इस बीच विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ये जानकारी दी है कि काठमांडू में भारतीय दूतावास को भी नुकसान पहुंचा है. भारतीय दूतावास में काम करने वाले एक कर्मचारी की बेटी की मौत हो गई है वहीं उनकी पत्नी गंभीर रूप से घायल हैं.

उत्तर पूर्व राज्यों में भी भूकंप का सबसे ज्यादा असर दिखा. करीब करीब 1 मिनट तक भूकंप के तेज झटके आते रहे और करीब 38 मिनट में 9 बार भूकंप के झटके महसूस किए गए. प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने भूकंप के मद्देनजर एक मीटिंग भी बुलाई. जिसमें नेपाल को हरसंभव मदद पहुंचाए जाने का फैसला लिया गया. प्रधानमंत्री मोदी ने नेपाल के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री से फोन पर बात कर स्थिति का जायजा लिया और मदद का भरोसा जताया. पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान ने भी भारत और नेपाल को मदद की पेशकश की है.

भारतीय वायुसेना ने अपने C-130J सुपर हरक्यूलिस एयरक्राफ्ट नेपाल के लिए रवाना कर दिया है. सूत्रों के मुताबिक जल्द ही NDRF की 15 टीमें राहत और बचाव कार्य के लिए नेपाल भेजी जाएंगी. वहीं काठमांडू में राहत कार्य का काम तेजी से जारी है. कई लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. कई अस्पताल में लोगों को भर्ती करने के लिए जगह नहीं बची है. ऐसी स्थिति में डॉक्टर सड़क पर ही मरीजों का इलाज कर रहे हैं.

इधर, भूकंप की वजह से पूरा उत्तर भारत सहमा हुआ है. दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में भूकंप की वजह से छिटपुट नुकसान की खबर है. लेकिन बिहार, उत्तर प्रदेश और पश्चिन बंगाल में भूकंप की वजह से कई लोगों ने अपनी जानें गंवाई है.

भूकंप में बिहार का हाल
मंगलवार और शुक्रवार को आई भीषण आंधी के बाद बिहार की राजधानी पटना सहित राज्य के अलग-अलग हिस्सों में शनिवार को दो बार भूंकप के झटके महसूस किए गए. बिहार में भूकंप से 20 लोगों की मौत हो गई है. चंपारण और सीतामढ़ी में चार-चार, दरभंगा में 2 और वैशाली में एक व्यक्ति की मौत की खबर है.

भूकंप में उत्तर प्रदेश का हाल
नेपाल में आए भीषण भूकंप का असर उत्तर प्रदेश में भी दिखा. लखनऊ समेत राज्य के बाकी शहरों में भूकंप से मरने वालों की संख्या 8 तक पहुंच गई है. भूकंप के कारण छत और दीवार गिरने की घटनाओं में आठ लोगों की मौत हो गई और करीब 15 अन्य घायल हो गए. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भूकंप से मरने वाले लोगों के परिवार वालों के लिए 5 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया है.

भूकंप में पश्चिम बंगाल का हाल
पश्चिम बंगाल में शनिवार को आए भूकंप के कारण दीवार गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई और कई बहुमंजिला इमारतों में दरारें आ गईं. जलपाईगुड़ी जिले में अंबारी इलाके के नाओपोरा में पन्नया सिंह रॉय के रूप में पहचान किए गए व्यक्ति जिस समय अपने अपने बागान में काम कर रहे थे उसी समय उन पर दीवार गिरने के कारण उनकी मौत हो गई. इसके अलावा दो लोगों के और मरने की खबर आई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें