scorecardresearch
 

कोविंद का नामांकन बनेगा BJP-NDA का मेगा पावर शो, जुटेंगे 20 मुख्यमंत्री

राष्ट्रपति पद के लिए रामनाथ कोविंद के नामांकन के अवसर पर बीजेपी और एनडीए अपनी जबर्दस्त ताकत का प्रदर्शन करना चाहते हैं. इसे एक मेगा पावर शो बनाने के लिए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ सहित NDA शासित राज्यों के 20 मुख्यमंत्री कोविंद के नामांकन के अवसर पर दिल्ली आ रहे हैं.

X
पीएम मोदी-अमित शाह के साथ कोविंद पीएम मोदी-अमित शाह के साथ कोविंद

राष्ट्रपति पद के लिए रामनाथ कोविंद के नामांकन के अवसर पर बीजेपी और एनडीए अपनी जबर्दस्त ताकत का प्रदर्शन करना चाहते हैं. इसे एक मेगा पावर शो बनाने के लिए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ सहित NDA शासित राज्यों के 20 मुख्यमंत्री कोविंद के नामांकन के अवसर पर दिल्ली आ रहे हैं.

कोविंद के नामांकन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, भाजपा शासित राज्यों के सभी 13 मुख्यमंत्री, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, जम्मू कश्मीर की महबूबा मुफ़्ती, आंध्रा प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्राबाबू नायडू, तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव, तमिलनाडु पालनीस्वामी समेत सभी केंद्रीय मंत्री मोजूद रहेंगे.

बीजेपी के सभी शीर्ष नेता, कोविंद के प्रस्तावक और सहयोगी दलों के नेता कल सुबह 10 बजे संसद के बालयोगी ऑडिटोरियम में जुटेंगे. यहां से एकसाथ वे कोविंद के नामांकन के लिए जाएंगे. रामनाथ कोविंद के रूप में मास्टर स्ट्रोक खेलकर पीएम मोदी ने विपक्ष को तो पहले ही धराशायी कर दिया है, ऐसे में बीजेपी-एनडीए नेताओं के हौसले काफी बुलंद हैं.

सुबह 11 बजे होगा नामांकन
एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के नामांकन के लिए संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार और मुख़्तार अब्बास नक़वी सारी तैयारियों को अंतिम रूप देने लगे हैं. कल सुबह 11 बजे रामनाथ कोविंद लोकसभा महासचिव अनूप मिश्रा के कमरे में नामांकन करेंगे.

पीएम मोदी होंगे पहले प्रस्तावक
रामनाथ कोविंद नामांकन में चार सेट अनुमोदन प्रस्ताव रहेंगे. पहले सेट में नरेंद्र मोदी पहले प्रस्तावक और गृहमंत्री राजनाथ सिंह दूसरे प्रस्तावक होंगे. दूसरे सेट में पहले प्रस्तावक भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और दूसरे प्रस्तावक वित्त मंत्री अरुण जेटली होंगे. तीसरे सेट में पहले प्रस्तावक पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और दूसरे प्रस्तावक शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू होंगे और चौथे सेट में पहले प्रस्तावक आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्र बाबू नायडू और दूसरी प्रस्तावक विदेश मंत्री सुषमा स्वराज होंगी.

जिस तरह से एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के पक्ष में नीतीश कुमार, नवीन पटनायक, पालनीस्वामी और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने समर्थन देने की घोषणा की है है उससे उनकी जीत का माहौल अब बनता जा रहा है. कल एनडीए नामांकन के दौरान अपनी ताक़त दिखा कर कोविंद की जीत सुनिचित कर देगा.

पहले लोकसभा फिर यूपी में भारी जीत के बाद बीजेपी अब राष्ट्रपति चुनाव में जीतकर देशवासियों के सामने स्पष्ट संदेश देना चाहती है कि उसका गठबंधन अपराजेय है और उसे वही जगह मिल चुकी है जो देश में कभी कांग्रेस की हुआ करती थी. बीजेपी लगातार ऐसी ताकत के प्रदर्शन के द्वारा यह माहौल बनाए रखना चाहती है कि तमाम आलोचनाओं के बावजूद उसकी ताकत कम नहीं हुई है और इस तरह 2019 के लिए वह अपनी जीत को सुनिश्चत करना चाहती है.

10 अकबर रोड पर बना वार रूम
बीजेपी ने राष्ट्रपति चुनाव के समन्वय और रणनीति बनाने के लिए 10 अकबर रोड पर विशेष वार रूम तैयार किया है. इस वार रूम से ही कोविंद की यात्रा आदि के बारे में समन्वय किया जाएगा. नामांकन दाख‍िल करने के बाद कोविंद अपने प्रचार के लिए कई राज्यों का दौरा भी करेंगे. नामांकन की सभी कानूनी औपचारिकताओं को दुरुस्त रखने के लिए बीजेपी ने दिग्गज वकीलों की एक टीम भी बना रखी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें