scorecardresearch
 

JNU में देशद्रोह का सामने आया नया वीडियो, भारत तेरे टुकड़े होंगे...इंशाअल्लाह...इंशाअल्लाह

इस वीडियो को एबीवीपी नेता रोहित चहल ने अपलोड किया है. हालांकि यह पता नहीं चल पाया है कि यह वीडियो कब का है.

दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यून‍िवर्सिटी (जेएनयू) में चल रहे विवाद के बीच एक नया वीडियो सामने आया है, जिसमें युवकों की भीड़ अफजल गुरु के समर्थन में भारत विरोधी नारे लगा रही है.

जेएनयू के इस वीडियो को बीजेपी के छात्र संघ अख‍िल भारतीय विद्याथी परिषद (एबीवीपी) नेता रोहित चहल ने अपलोड किया है. हालांकि यह पता नहीं चल पाया है कि यह वीडियो कब का है. वीडियो में युवक नारे लगा रहे हैं- 'अफजल तेरे खून से इंकलाब आएगा. अफजल हम शर्मिंदा हैं, तेरे कातिल जिंदा हैं. भारत तेरे टुकड़े होंगे.'

कन्हैया की गिरफ्तारी के विरोध में हड़ताल
जेएनयू में राष्ट्र विरोधी नारेबाजी मामले में छात्रों की गिरफ्तारी को लेकर छात्र संघ ने सोमवार से कैंपस में हड़ताल का ऐलान किया है. जेएनयू छात्र संघ की ओर से बयान में कहा गया कि अध्यक्ष कन्हैया कुमार की रिहाई तक हड़ताल जारी रखी जाएगी.

इसके पहले जेएनयू टीचर्स एसोसिएसन भी छात्रों के समर्थन में उतर गया है. यही नहीं, दिल्ली यूनिवर्सिटी टीचर्स एसोसिएसन ने भी छात्रों की गिरफ्तारी का विरोध किया है और जेएनयूटीए के साथ खड़ा हो गया है. रविवार शाम जेएनयू में छात्र संघ के साथ टीचर्स ने मिलकर ह्यूमैन चेन बनाया और छात्रों की रिहाई की मांग की. सोमवार को दोनों यूनिवर्सिटी के टीचर्स अगली रणनीति के लिए आमसभा करेंगे.

वीसी ने मांगी यूनिवर्सिटी संचालन में मदद
इस बीच, जेएनयू के वाइस चांसलर ने छात्रों सहित यूनिवर्सिटी से जुड़े लोगों से शैक्षणिक कार्यक्रम को सुचारू रूप से चलाने की अपील की है. उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी का संचालन छात्रों को उच्च गुणवत्ता की शिक्षा मुहैया कराने के लिए किया गया है. यूनिवर्सिटी का फोकस अपने अकादमिक लक्ष्य हासिल करने की प्राथमिकता पर होना चाहिए. उन्होंने कहा कि सबलोग मिलकर हमें बिना लागलपेट के इस मुख्य लक्ष्य के लिए मदद करें.

निलंबित छात्रों को जांच के लिए बुलाया
जेएनयू कैंपस में विवादित कार्यक्रम के सिलसिले में शैक्षणिक गतिविधियों में हिस्सा लेने से रोके गए आठ में से सात छात्रों को मामले की जांच कर रही उच्च-स्तरीय समिति के सामने पेश होने को कहा गया है. जेएनयू के रजिस्ट्रार भुपिंदर जुत्शी ने कहा कि सात छात्रों को नोटिस भेजकर मामले की जांच कर रही यूनिवर्सिटी की उच्च स्तरीय समिति के सामने पेश होने के लिए कहा गया है. कन्हैया सहित आठ छात्रों को जांच पूरी होने तक शैक्षणिक गतिविधियों में हिस्सा लेने से रोक दिया गया है.

अगले हफ्ते आएगी जांच समिति की रिपोर्ट
रजिस्ट्रार ने कहा कि जिन छात्रों को शैक्षणिक गतिविधियों में हिस्सा लेने से रोका गया है, उन्हें हॉस्टल में रहने की अनुमति दी गई है. उन्हें जांच समिति की बैठकों में हिस्सा लेना होगा. जेएनयू प्रशासन की ओर से गठित प्रॉक्टोरियल समिति की अंतरिम रिपोर्ट के आधार पर यह फैसला किया गया था. अगले हफ्ते तक समिति की अंतिम रिपोर्ट आने की संभावना है.

पीएम आवास पर हुई बीजेपी की कोर मीटिंग
जेएनयू में पुलिस कार्रवाई और जारी राजनीतिक गतिरोध के बीच रविवार को पीएम नरेंद्र मोदी के आवास पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरुण जेटली और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बैठक की. कुछ अन्य नेताओं की मौजूदगी में हुई बातचीत के बारे में बताया गया है कि यह रूटीन बैठक थी. इसमें संसद के बजट सत्र और पांच राज्यों में होनेवाले चुनाव के साथ पार्टी संगठन के बारे में बातचीत की गई. जेएनयू मसले पर बातचीत होनी थी क्योंकि कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियों ने इसके बहाने सरकार पर हमला किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें