scorecardresearch
 

JNU: सर्वर रूम से शुरू हुआ विवाद, जानिए लेफ्ट-ABVP में क्यों हुई भिड़ंत

जेएनयू में फीस बढ़ोतरी को लेकर लंबे समय से प्रोटेस्ट चल रहा है. बताया जा रहा है कि शनिवार को जेएनयू छात्र संघ ने सर्वर रूम को लॉक कर दिया था. इसको लेकर एबीवीपी और लेफ्ट विंग के स्टूडेंट्स में हल्की झड़प हुई थी.

जेएनयू कैंपस जेएनयू कैंपस

  • ABVP-लेफ्ट ने एक-दूसरे पर लगाया आरोप
  • करीब 25 छात्रों के घायल होने की सूचना है

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में एक बार फिर हिंसा की घटना हुई है. जेएनयू छात्र संघ (JNUSU) ने दावा किया है कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) ने हिंसा को अंजाम दिया है. वहीं, ABVP ने लेफ्ट विंग पर मारपीट करने का आरोप लगाया है. इस हिंसा में करीब 25 छात्रों के घायल होने की खबर है.

जेएनयू में फीस बढ़ोतरी को लेकर लंबे समय से प्रोटेस्ट चल रहा है. बताया जा रहा है कि शनिवार को जेएनयू छात्र संघ ने सर्वर रूम को लॉक कर दिया था. इसको लेकर एबीवीपी और लेफ्ट विंग के स्टूडेंट्स में हल्की झड़प हुई थी. रविवार को जेएनयू छात्र संघ की ओर से साबरमती हॉस्टल से मार्च निकाला जाना था. इस दौरान यहां हिंसा हुई.

इंटरनेट बंद होने से नहीं हुआ रजिस्ट्रेशन

जेएनयू एबीवीपी प्रेसिडेंट दुर्गेश कुमार ने कहा कि लिफ्ट विंग के छात्रों ने एबीवीपी के छात्रों के साथ मारपीट की है, जो बेहद ही निंदनीय घटना है. रविवार को रजिस्ट्रेशन का आखिरी दिन था. एबीवीपी के छात्र रजिस्ट्रेशन के लिए गए थे, लेकिन इंटरनेट बंद होने के चलते चलते रिजस्ट्रेशन नहीं हो पाया है .

ABVP ने 11 छात्र लापता होने का आरोप लगाया

जेएनयू एबीवीपी प्रेसिडेंट  ने कहा कि इसके विरोध में संगठन के छात्र विवेकानंद मूर्ति के पास रजिस्ट्रेशन की मांग कर रहे थे. इस बीच लेफ्ट के लोग आकर एबीवीपी के लोगों पर हमला कर दिया. दुर्गेश ने कहा कि पुलिस कैंपस में नहीं आ रही है. एबीवीपी से जुड़े 11 छात्र भी लापता है. हमारी मांग है कि हमें सुरक्षा दी जाए. कैंपस में डर का माहौल है.

JNU छात्रसंघ ने ABVP पर लगाया आरोप 

जेएनयू छात्रसंघ का कहना है कि उनकी अध्यक्ष आइशी घोष और कई दूसरे स्टूडेंट्स को ABVP के सदस्यों ने पीटा है. इस दौरान कुछ तस्वीरें और वीडियो भी सामने आए. जेएनयूएसयू ने दावा किया कि साबरमती और अन्य हॉस्टल में ABVP ने एंट्री कर छात्रों की पिटाई की. साथ ही ABVP की ओर से पथराव और तोड़फोड़ भी की गई. जेएनयूएसयू का कहना है कि तोड़फोड़ करने वाले लोगों ने चेहरे पर नकाब पहना हुआ था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें