scorecardresearch
 

30 महीने की कश्मीरी बच्ची पर बरसाई थीं गोलियां, 5 दिन में लश्कर आतंकी को सेना ने किया ढेर

सोपोर में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया है. मारे गए आतंकी की शिनाख्त लश्कर-ए-तैयबा के मोस्ट वांटेड आतंकी आसिफ के तौर पर की गई है. आसिफ ने ही सोपोर में एक फल विक्रेता के घर पर फायरिंग कर तीन सदस्यों को घायल कर दिया था.

आतंकी आसिफ (फोटो- कमलजीत संधू) आतंकी आसिफ (फोटो- कमलजीत संधू)

  • मारा गया आतंकी आसिफ सेब कारोबारियों को दे रहा था धमकी
  • सोपोर में आतंक मचा रखा था आसिफ, 1 महीने से था सक्रिय

जम्मू-कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया है. मारे गए आतंकी की शिनाख्त लश्कर-ए-तैयबा के मोस्ट वांटेड आतंकी आसिफ के तौर पर की गई है. आसिफ ने ही सोपोर में एक फल विक्रेता के घर पर फायरिंग कर तीन सदस्यों को घायल कर दिया था, जिसमें 30 महीने की बच्ची शामिल थी.

जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा कि आसिफ सेब कारोबारियों को धमकी दे रहा था. उन्होंने कहा कि आसिफ ने सोपोर में काफी आतंक मचा रखा था. पिछले 1 महीने में वह बहुत सक्रिय था. उसने ओवर ग्राउंड वर्कर्स के जरिए नागरिकों को दुकान नहीं खोलने की धमकी देता था.वह सोपोर में एक मजदूर पर हमले का भी जिम्मेदार था.

बता दें कि सुरक्षाबलों को बुधवार सुबह आतंकी के छिपे होने की खबर मिली थी. इसके बाद सुरक्षाबलों ने अभियान चलाया. इस दौरान आतंकी आसिफ को ढेर कर दिया गया. हाल ही में जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सोपोर में अलग-अलग संगठनों के लिए काम करने वाले 8 ग्राउंड वर्कर्स को गिरफ्तार किया था. गिरफ्तार दहशतगर्द आतंकी संगठनों के लिए जमीनी स्तर पर काम करते थे और उनके लिए सूचनाएं जुटाते थे. सूत्रों के मुताबिक गिरफ्तार किए गए सदस्य कश्मीर के लोगों को धमकाने और देश के खिलाफ भड़काने के मामलों में भी संलिप्त थे.

जम्मू और कश्मीर की ताजा स्थिति पर बात करते हुए डीजीपी ने कहा कि जम्मू के सभी 10 जिले पूरी तरह से सामान्य हो गए हैं, सभी स्कूल, कॉलेज और कार्यालय खुले हैं. लेह और करगिल भी सामान्य हैं, वहां किसी भी तरह का कोई प्रतिबंध नहीं है. 90% से अधिक क्षेत्र प्रतिबंधों से मुक्त हैं, सभी टेलीफोन एक्सचेंज अब काम कर रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें