scorecardresearch
 

फिक्सिंग का बॉलीवुड कनेक्‍शन, विंदू दारा सिंह गिरफ्तार, धोनी की पत्‍नी से भी होगी पूछताछ

आईपीएल में स्‍पॉट फिक्सिंग में बॉलीवुड से पहला कनेक्‍शन सामने आ ही गया है. बिग बॉस के विजेता और दिवंगत दारा सिंह के पुत्र विंदू दारा सिंह को इस मामले में गिरफ्तार किया गया है.

विंदू दारा सिंह विंदू दारा सिंह

आईपीएल में स्‍पॉट फिक्सिंग मामले में बॉलीवुड अभिनेता विंदू दारा सिंह की गिरफ्तारी के बाद अब खबर है कि मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी की पत्‍नी साक्षी धोनी (वीडियो देखें)से भी पूछताछ कर सकती है. सवाल यह उठाए जा रहे हैं कि 6 अप्रैल को चेन्‍नई के एमए चिदंबरम स्‍टेडियम में आईपीएल मैच के दौरान धोनी की पत्‍नी साक्षी के साथ वीवीआईपी स्‍टैंड में विंदू क्‍या कर रहे थे.

इससे पहले 'बिग बॉस 3' के विजेता और दिवंगत दारा सिंह के पुत्र विंदू दारा सिंह को आज स्‍पॉट फिक्सिंग मामले में गिरफ्तार किया गया. मुंबई क्राइम ब्रांच के सूत्रों ने बताया कि विंदू दारा सिंह लगातार सट्टेबाजों के संपर्क में थे. क्राइम ब्रांच ने विंदू को गिरफ्तार करने के बाद उनसे पूछताछ भी की. बाद में उन्हें कोर्ट में पेश किया गया और पुलिस ने पांच दिन का रिमांड मांगा है. पुलिस को शक है कि इस मामले में बॉलीवुड के और लोग भी शामिल हो सकते हैं.

क्राइम ब्रांच के अधिकारी ने बताया, ‘सट्टेबाजों के संपर्क में रहने के कारण विंदू से पूछताछ की गई थी और उसे गिरफ्तार कर लिया गया.’ रियलिटी टीवी शो बिग बास के तीसरे सत्र के विजेता 49 वर्षीय विंदू को कई मौकों पर आईपीएल मैच देखते हुए और मैच के बाद होने वाली पार्टियों में हिस्सा लेते हुए देखा गया.

भारतीय क्रिकेट को झकझोरने वाले स्पाट फिक्सिंग प्रकरण के संबंध में यह बालीवुड से पहली गिरफ्तारी है. अभी यह नहीं पता चला है कि वह आईपीएल खिलाड़ियों और सट्टेबाजों के बीच की कड़ी थे या सिर्फ सट्टेबाजी किया करते थे.

दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ के अलावा इस प्रकरण की जांच कर रही अपराधा शाखा ने सोमवार को एक कास्टिंग निर्देशक से भी पूछताछ की थी जिसने एस श्रीसंत को माडल्स के फोटोग्राफ दिए थे. अपराध शाखा ने इसके अलावा तेलुगु फिल्म निर्माता को भी तलब किया है जिसके इस दागी तेज गेंदबाज के साथ व्यावसायिक संबंध हैं.

इससे पहले इस तरह का संदेह जताया जा रहा था कि क्रिकेटरों को आईपीएल मैचों में स्पाट फिक्सिंग के प्रति लुभाने के लिए जाल बिछाया गया. दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने श्रीसंत और राजस्थान रायल्स टीम के उनके दो साथियों अजीत चंदीला और अंकित चव्हाण को कम से कम तीन आईपीएल मैचों में कथित तौर पर स्पाट फिक्सिंग में शामिल रहने के आरोप में 15 मई की रात को गिरफ्तार किया था.

श्रीसंत के मित्र जिजू जनार्दन को भी इस मामले में गिरफ्तार किया गया था. पुलिस ने लैपटाप सहित कुछ इलेक्ट्रानिक उपकरण, 72000 रुपये नकद, डाटा कार्ड और डायरी बरामद की थी जिसमें अंग्रेजी और मलयालम में लिखा हुआ था. माना जा रहा है कि यह श्रीसंत ने लिखा है. इसके अलावा श्रीसंत के लैपटाप में माडल्स के दर्जनों फोटोग्राफ मिले जिसे कास्टिंग निर्देशक ने उन्हें ईमेल किया.

गौरतलब है कि दिल्‍ली पुलिस ने आईपीएल में स्‍पॉट फिक्सिंग का खुलासा किया था और श्रीसंत सेमत 3 खिला‍ड़‍ियों और 11 बुकी को गिरफ्तार भी किया था.

मामले में एक मराठी अभिनेत्री का नाम पहले ही आ चुका है. मामले में पुलिस ने 'डी' कंपनी का हाथ होने की बात भी कही थी.

इस बीच, दिल्ली पुलिस ने स्पॉट फिक्सिंग मामले में गिरफ्तार किए 14 लोगों को साकेत कोर्ट ले गई है. गौरतलब है कि सभी आरोपियों की रिमांड मंगलवार को खत्म हो गई है.

खबर यह भी है कि श्रीसंत को दिल्ली पुलिस मंगलवार सुबह जयपुर ले गई थी. पुलिस तेज गेंदबाज को अतुल झाला के घर ले गई थी. इसके अलावा पुलिस उन्हें होटल मैरिएट भी ले गई.

इधर स्पॉट फिक्सिंग का खुलासा करने वाली दिल्ली पुलिस के कमिश्नर नीरज कुमार ने आजतक से सीधी बातचीत में दावा किया है कि तीनों खिलाड़ियों पर सोच समझकर और कानूनी दावपेंच को जानते हुए हाथ डाला है. नीरज कुमार ने कहा कि हमारे पास इतने सबूत हैं कि उनके पास कबूल करने के अलावा कोई और रास्ता नहीं है. उनको जब सबूत दिखाए तो वो नकार नहीं पाए.

स्पॉट फिक्सिंग का 'डी' कनेक्शन
आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग के पीछे अंडरवर्ल्ड के हाथ होने का शक तो पहले ही जाहिर किया जा रहा था लेकिन अब इस बात का खुलासा हुआ है कि इसके पीछे सीधे दाऊद का हाथ है. फिक्सिंग से जुड़ा कारोबार खुद दाऊद का भाई अनीस इब्राहिम देखता है और कराची और दुबई से यह पूरा गंदा खेल खेला जाता है. यहां तक की क्रिकेटर श्रीसंत को भी इस धंधे में शामिल करने के पीछे अनीस का ही हाथ है.

फिक्सर अजीत चंदीला के महंगे शौक
स्‍पॉट फिक्सिंग के आरोप में गिरफ्तार किए गए क्रिकेटर अजीत चंदीला ने एक मौके पर मुंबई से ढाई लाख में अपने लिए 2 जींस खरीदी थी. इसके अलावा उसने एक लाख की कीमत की विदेशी कंपनी की एक घड़ी भी खरीदी थी और इन तमाम खरीददारी का पेमेंट किया था अमित सिंह ने. अमित सिंह पूर्व क्रिकेटर है और इस समय सट्टेबाजी के खेल का खिलाड़ी है.

क्रिकेटरों पर डोरे डालने के लिए लड़कियों का सहारा
क्रिकेट पर स्पॉट फिक्सिंग का बदनुमा दाग लगाने वाले तीन खिलाड़ियों के बारे में सनसनीखेज खुलासा हुआ कि सट्टेबाजों ने खिलाड़ियों पर डोरे डालने के लिए लड़कियों का इस्तेमाल किया जाता था. दिल्‍ली पुलिस के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि स्‍पॉट फिक्सिंग में पकड़े गए खिलाड़ी सटोरियों से लड़कियां भेजने की भी डिमांड करते थे. फोन टैपिंग में हुए खुलासे के अनुसार कम से दो खिलाड़ियों को लड़कियां भेजी गई थीं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें