scorecardresearch
 

Indian Railways: रेलवे का ऐलान, 200 ट्रेनों के लिए आज से एजेंट, रेलवे काउंटर समेत कई जगहों पर होगी बुकिंग

Indian Railways Special Trains, Ticket Booking Online Updates: रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा कि रेलवे ने आज यानी 22 मई से आरक्षण काउंटर, कॉमन सर्विस सेंटर और एजेंटों के माध्यम से टिकट बुकिंग की सुविधा को फिर से शुरू करने के लिए हरी झंडी दिखा दी है.

IRCTC Online Ticket Booking, Refund Rules, Train Schedule, Cancellation Charges (200 ट्रेनें) IRCTC Online Ticket Booking, Refund Rules, Train Schedule, Cancellation Charges (200 ट्रेनें)

इंडियन रेलवे यात्रियों की सुविधा के लिए एक के बाद एक खुशखबरी दे रहा है. बुधवार को 1 जून से 200 पैसेंजर ट्रेनों को चलाने की घोषणा के बाद रेल मंत्रालय ने टिकटों की बुकिंग के लिए भी कई रास्ते खोल दिए हैं. कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन के दौरान अभी तक यात्रियों को सिर्फ और सिर्फ रेलवे की वेबसाइट और मोबाइल ऐप से ही टिकट मिल पा रहे थे. लेकिन रेलवे की नई घोषणा के बाद यात्रियों के लिए टिकट बुक करने के कई विकल्प खुल गए हैं.

कहां से बुक होंगे ट्रेन के टिकट?

रेलवे से मिली जानकारी के मुताबिक अब यात्री एक जून से चलने वाली 200 ट्रेनों के लिए वेबसाइट और मोबाइल ऐप के अलावा रेलवे स्टेशन के काउंटर, पोस्ट ऑफिस, यात्री टिकट सुविधा केंद्र (YTSK) से टिकट बुक करवा सकेंगे. यही नहीं, यात्री IRCTC के आधिकारिक एजेंट, पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम (PRS) और कॉमन सर्विस सेंटर्स से भी टिकट बुक करवा सकते हैं. इन सभी काउंटर से यात्री टिकट बुक करवाने के साथ ही उन्हें कैंसिल भी करवा सकते हैं. हालांकि, इस दौरान यात्रियों को सामाजिक दूरी का ख्याल रखना होगा.

इन सभी माध्यमों से टिकटों की बुकिंग 22 मई यानी शुक्रवार से शुरू हो जाएगी. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को ट्वीट कर इन सभी जानकारियों के बारे में अवगत कराया. हालांकि, रेलवे के मुताबिक फिलहाल कुछ ही स्टेशनों पर काउंटर खोले जाएंगे और धीरे-धीरे इनकी संख्या बढ़ाई जाएगी.

कहां-कहां खुलेंगे रेलवे काउंटर?

सेंट्रल रेलवे ने अपने जोन के काउंटर्स की लिस्ट जारी कर दी है जहां से यात्री काउंटर टिकट बुक करवा सकते हैं. इनमें मुंबई डिविजन, नागपुर डिविजन, भुसवल डिविजन, सोलापुर डिविजन और पुणे डिविजन के रेलवे काउंटर शामिल हैं. सेंट्रल रेलवे ने करीब 46 काउंटर्स की लिस्ट जारी की है जहां यात्री जाकर अपना कंफर्म टिकट बुक करवा सकते हैं. ये सभी काउंटर्स आज यानी 22 मई से खोल दिए जाएंगे.

एजेंट से भी बुक करवा सकेंगे टिकट

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा कि रेलवे ने आज यानी 22 मई से आरक्षण काउंटर, कॉमन सर्विस सेंटर और एजेंटों के माध्यम से टिकट बुकिंग की सुविधा को फिर से शुरू करने के लिए हरी झंडी दिखा दी है. इस फैसले के बाद रेलवे के प्रत्येक जोन अपनी सुविधा अनुसार चरणबद्ध तरीके से काउंटर खोलने और तय करने की सूचना देंगे.

train-1478_052220075335.jpg

पश्चिमी रेलवे ने कहा कि शुक्रवार से चुनिंदा रेलवे काउंटर खोल दिए जाएंगे. यात्रियों से निवेदन है कि वो अपने नजदीक के रेलवे काउंटर के खुलने के बारे में जानकारी प्राप्त करने के बाद ही घर से टिकट बुकिंग के लिए निकलें.

पश्चिम रेलवे के अहमदाबाद मंडल के अहमदाबाद, भुज, गांधीधाम, साबरमती, पालनपुर, महेसाणा व विरमगाम स्टेशनों पर सोशल डिस्टेसिंग के साथ 22 मई 2020 से रिजर्वेशन काउंटर खुलेंगे. पश्चिम रेलवे ने कहा कि फिलहाल केवल आरक्षित टिकट मिलेंगे और टिकटों का रिफंड अभी सम्भव नहीं होगा.

2_052220081933.jpg

ये सभी नियम एक जून से चलने वाली 200 पैसेंजर्स ट्रेन की टिकट बुकिंग के लिए मान्य होंगे. इन 200 ट्रेनों के अलावा एसी स्पेशल और श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी. इन 200 ट्रेनों में जनरल बोगी के लिए भी यात्री टिकट बुक करवा सकते हैं. यानी किसी भी बोगी में बिना कंफर्म टिकट के यात्रियों को यात्रा की इजाजत नहीं होगी. साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का भी ख्याल रखना अनिवार्य होगा.

1_052220082059.jpgइन स्टेशनों के काउंटर पर होगी टिकटों की बुकिंग

रेलवे ने 200 ट्रेनों के लिए टिकट बुकिंग को लेकर कई नियमों में बदलाव किए हैं. आइए जानते हैं उन नियमों के बारे में...

1. इन 200 ट्रेनों के लिए IRCTC की आधिकारिक वेबसाइट या मोबाइल ऐप के अलावा रेलवे स्टेशन के आरक्षण काउंटर, IRCTC के एजेंट, पोस्ट ऑफिस, यात्री टिकट सुविधा केंद्र (YTSK), पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम (PRS) और कॉमन सर्विस सेंटर्स से इन ट्रेनों के लिए टिकट बुक करवा पाएंगे.

2. अग्रिम आरक्षण की अवधि (ARP) अधिकतम 30 दिन होगी. यानी यात्री इन 200 ट्रेनों के लिए टिकट की बुकिंग यात्रा के दिन से 30 दिन पहले या 30 दिन के भीतर करा सकेंगे. जैसे 30 जून की यात्रा के लिए यात्री 1 जून से 30 जून तक टिकट करवा सकते हैं.

3. RAC और वेटिंग टिकट मौजूदा नियमों के अनुसार ही दिया जाएगा, हालांकि वेटिंग टिकट वाले व्यक्ति को ट्रेन में चढ़ने की अनुमति नहीं दी जाएगी. बता दें कि वर्तमान नियमों के मुताबिक एसी 1 में 20, एसी 2 में 50, एसी 3 में 100 और स्लिपर कोच में 200 वेटिंग टिकट बुक किए जा सकते हैं.

4. यात्रा के दौरान किसी भी यात्री को कोई अनारक्षित (यूटीएस) टिकट जारी नहीं किया जाएगा और न ही कोई अन्य टिकट जारी किया जाएगा. यानी टिकट चेक करने वाले अधिकारी को यात्रा के दौरान टिकट देने का अधिकार नहीं होगा.

5. इन ट्रेनों में कोई भी तत्काल और प्रीमियम तत्काल बुकिंग की अनुमति नहीं दी जाएगी.

6. पहले चार्ट को ट्रेन के चलने के समय से कम से कम 4 घंटे पहले तैयार किया जाएगा और दूसरे चार्ट को निर्धारित प्रस्थान समय से कम से कम 2 घंटे पहले तैयार किया जाएगा. अभी तक दूसरा चार्ट 30 मिनट पहले तैयार किया जाता था. पहले और दूसरे चार्ट की तैयारी के बीच केवल ऑनलाइन टिकट बुकिंग की अनुमति होगी.

7. सभी यात्रियों की अनिवार्य रूप से मेडिकल जांच की जाएगी और केवल पूर्ण रूप से स्वस्थ्य यात्रियों को ही ट्रेन में प्रवेश करने और यात्रा करने की अनुमति होगी.

8. केवल कन्फर्म टिकट वाले यात्रियों को ही रेलवे स्टेशन में प्रवेश करने की अनुमति होगी.

9. सभी यात्रियों को प्रवेश के दौरान और यात्रा के दौरान फेस कवर/मास्क पहनना अनिवार्य होगा. अपने गंतव्य स्टेशन पर पहुंचने के बाद यात्रियों को स्वास्थ्य प्रोटोकॉल का पालन करना होगा जो वहां के राज्य/केंद्रशासित प्रदेश द्वारा बनाए गए हैं.

ये भी पढ़ें:खुशखबरी! इन ट्रेनों में कीजिए बुकिंग, देखें पूरी लिस्ट

10. स्टेशन पर थर्मल स्क्रीनिंग की सुविधा के लिए यात्री कम से कम 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचेंगे. बीमार लोगों को यात्रा की अनुमति नहीं होगी. यात्री स्टेशन और ट्रेनों दोनों पर सामाजिक दूरी का ख्याल रखेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें