scorecardresearch
 

ऑटोमेटिक टिकट चेकिंग से लेकर रोबोट तक, कोरोना काल में यूं हाईटेक हुआ Indian Railways

IRCTC, Indian Railways Automated Ticket checking Machine News Updates: भारतीय रेलवे यात्रा के दौरान यात्रियों को सख्ती से सुरक्षा नियमों का पालन करा रहा है. कोरोना महामारी के चलते लोगों को संक्रमण के खतरे से बचाने के लिए रेलवे ने स्वचलित मशीनें (Automated Machines) लगाई हैं.

Indian Railways Automated Ticket checking Machine and Robot Captain Arjun Indian Railways Automated Ticket checking Machine and Robot Captain Arjun

  • कोरोना के बीच यात्रियों की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर रहा रेलवे
  • कोरोना संक्रमण से बचने के लिए रेलवे ने लगाई ऑटोमेटिक मशीनें

कोरोना महामारी के संक्रमण से यात्रियों को बचाने के लिए इंडियन रेलवे (Indian Railways) सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर रहा है. इसी कड़ी में आगे बढ़ते हुए रेलवे ने अब स्टेशनों पर ऑटोमेटिक टिकट चेकिंग मशीन (Automated Ticket Checking) लगाने की शुरुआत कर दी है. नागपुर रेलवे स्टेशन पर रेलवे ने देश की पहली ऑटोमेटिक टिकट चेकिंग मशीन लगाई है. रेलवे के अधिकारियों के मुताबिक मशीन ना सिर्फ ऑटोमेटिक तरीके से टिकट चेकिंग का काम कर रही है, बल्कि यात्रियों के शरीर के तापमान की भी जांच हो रही है.

बता दें कि पुणे में रेलवे सुरक्षा बल (RPF) ने रोबोट कैप्टन अर्जुन की शुरुआत की है, जो रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों से आने-जाने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग करने के साथ संभावित संक्रमण से यात्रियों को सुरक्षा प्रदान करेगा. रेलवे ने ट्वीट कर कहा कि "कैप्टेन अर्जुन" एक आधुनिक रोबोट: जो आर्टिफीशियल इंटेलीजेंसी से लैस है. थर्मल स्क्रीनिंग, सेनिटाइजेशन जैसे कार्य करने के साथ- साथ ड्रोन कैमरा, वीडियो रिकॉर्डिंग भी कर सकता है.

यात्रियों की स्क्रीनिंग कर रहा रोबोट कैप्टन अर्जुन

रोबोट कैप्टन अर्जुन मोशन सेंसर, कैमरा से लैस है. इसमें एक इनबिल्ट सायरन, एक्सट्रा एक्टिविटी, स्पॉटलाइट एच -264 प्रोसेसर है. इसके अलावा रिकॉर्डिंग के लिए एक अलग स्टोरेज सिस्टम है. कैप्टन अर्जुन आने-जाने वाले यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग करता है और तापमान को रिकॉर्ड करता है. इस दौरान यदि तापमान अधिक होने पर अलार्म बजने लगता है.

ये भी पढ़ें- यात्रियों को स्टेशन पर मिलेंगे सैनिटाइजर-मास्क, यहां लगी वेंडिंग मशीन

बता दें कि ऑटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन से टिकट देने की शुरुआत काफी पहले से ही हो गई है. इस मशीन की सहायता से अभी जनरल टिकट काटे जा रहे हैं.

सैनिटाइजर-मास्क के लिए वेंडिंग मशीन

भारतीय रेलवे यात्रा के दौरान यात्रियों को सख्ती से सुरक्षा नियमों का पालन भी करा रहा है. कोरोना महामारी के चलते लोगों को संक्रमण के खतरे से बचाने के लिए रेलवे ने स्वचलित मशीनें लगाई हैं. इसी कड़ी में पटना जंक्शन पर यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे ने स्वचालित फेस मास्क (Automated Face Mask) और हैंड सैनिटाइजर डिस्पेंसर मशीन (Hand Sanitiser dispenser machine) लगाई है.

कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए पश्चिम रेलवे के रतलाम स्टेशन पर यात्रियों के सामान को सैनिटाइज करने हेतु स्टेशन के प्रवेश द्वार पर लगेज सैनिटाइजर मशीन लगाई गई है, जिससे निरंतर यात्रियों के सामान को सैनिटाइज किया जा रहा है. वहीं, गुवाहाटी रेलवे स्टेशन पर भी यात्रियों के हाथ धोने की सुविधा के लिए टच फ्री वॉश बेसिन लगाया गया है. रेलवे की यह पहल काफी उपयोगी साबित हो रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें