scorecardresearch
 

मुंबई हमला: तलब किए गए पाकिस्तानी उप उच्चायुक्त

भारत ने पाकिस्तान के उप उच्चायुक्त को तलब कर पड़ोसी मुल्क में मुंबई आतंकी हमले का मुकदमा स्थगित होने के खिलाफ कड़ी आपत्ति जताई.

मुंबई हमले की फाइल फोटो मुंबई हमले की फाइल फोटो

भारत ने पाकिस्तान के उप उच्चायुक्त को तलब कर पड़ोसी मुल्क में मुंबई आतंकी हमले का मुकदमा स्थगित होने के खिलाफ कड़ी आपत्ति जताई.

शुक्रवार को एक ओर भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तानी उप उच्चायुक्त को तलब किया, वहीं भारतीय उप उच्चायुक्त इस्लामाबाद में पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय गए और इसी तरह का विरोध दर्ज कराया.

सूत्रों ने बताया है कि नई दिल्ली और इस्लामाबाद में पाकिस्तानी अधिकारियों के साथ अपनी बैठकों में भारतीय अधिकारियों ने मुकदमे की प्रगति और पाकिस्तानी अधिकारियों द्वारा की जा रही जांच की नियमित जानकारी की मांग की.

समझा जाता है कि भारतीय अधिकारियों ने बैठक में दोहराया कि 2008 मुंबई आतंकी हमला मामले में पाकिस्तान सभी जिम्मेदार लोगों को न्याय के कठघरे में लाए. इस हमले में 166 लोग मारे गए थे और सैकड़ों अन्य घायल हुए थे. पाकिस्तान की आतंक निरोधी अदालत की कार्यवाही बुधवार को लगातार सातवीं बार स्थगित हो गई. मुंबई हमले में सात आरोपियों पर इस अदालत में मामला चलाया जा रहा है.

न्यायाधीश के छुट्टी पर रहने के कारण 25 जून को मामले की सुनवाई नहीं हो पाई थी. अभियोजन वकीलों की गैरमौजूदगी के कारण मामले की सुनवाई नियमित आधार पर नहीं हो पाती है.

28 मई, 4 जून, 18 जून और 2 जुलाई को मुख्य रूप से सुरक्षा कारणों से रावलपिंडी अदालत में सुनवाई में अभियोजन वकील उपस्थित नहीं हुए थे.

लश्कर ए तैयबा के ऑपरेशन कमांडर जकीउर रहमान लखवी, अब्दुल वाजिद, मजहर इकबाल, हमाद अमीन सादिक , शाहिद जमीन रियाज, जमील अहमद और अंजुम पर साजिश रचने, वित्तीय मदद मुहैया कराने और हमले की साजिश को अंजाम देने का आरोप है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें