scorecardresearch
 

Corona: चीन के वुहान से 112 लोगों को लेकर दिल्ली पहुंचा वायुसेना का एयरक्राफ्ट

कोरोना वायरस के कहर से प्रभावित चीन के वुहान शहर में फंसे भारतीयों का इंतजार खत्म हुआ. वायु सेना का एयरक्राफ्ट, भारतीय समेत 112 लोगों को लेकर दिल्ली पहुंच गया.

वुहान में फंसे भारतीय और विदेशी पहुंचे भारत (Photo- Aajtak) वुहान में फंसे भारतीय और विदेशी पहुंचे भारत (Photo- Aajtak)

  • वायुसेना का एयरक्राफ्ट सुबह 6.45 बजे दिल्ली पहुंचा
  • एयरक्राफ्ट से 36 विदेशी समेत 112 लोग भारत पहुंचे
  • 15 टन राहत सामग्री लेकर एयरक्राफ्ट पहुंचा था वुहान

चीन में कोरोना का संक्रमण जारी है. कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित वुहान शहर में फंसे भारतीयों समेत 112 लोगों को लेकर वायु सेना का एयरक्राफ्ट भारत पहुंच गया है. भारतीय वायु सेना का स्पेशल एयरक्राफ्ट बुधवार को राहत सामग्री से साथ वुहान पहुंचा. वहां राहत सामग्री पहुंचाने के बाद उसी एयरक्राफ्ट से वहां फंसे लोगों को लेकर दिल्ली पहुंचा. इन लोगों में भारतीयों समेत 36 पड़ोसी देशों के नागरिक भी शामिल हैं.

कोरोना से प्रभावित चीन के वुहान शहर में फंसे भारतीयों का इंतजार बुधवार को खत्म हुआ और वे दिल्ली पहुंच गए. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक भारतीय वायु सेना का विशेष एयरक्राफ्ट 15 टन राहत सामग्री के साथ वुहान पहुंचा. वहां राहत सामग्री पहुंचाने के बाद उसी एयरक्राफ्ट से वहां फंसे 112 लोगों को लेकर दिल्ली के लिए रवाना हुआ और गुरुवार सुबह 6.45 बजे दिल्ली पहुंचा. भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा है कि इस मुश्किल वक्त में भारत द्वारा राहत सामग्री भेजकर हमने चीन के लोगों के साथ एकजुटता दिखाई है.

ये भी पढ़ें- दिल्ली हिंसा मामले पर आज फिर हाई कोर्ट में सुनवाई, चीफ जस्टिस सुनेंगे केस

भारतीय वायु सेना का एयरक्राफ्ट ग्लोबमास्टर C-17 बुधवार को 15 टन राहत सामग्री लेकर वुहान पहुंचा. इनमें मास्क, दस्ताने और दूसरे मेडिकल उपकरण भेजे गए हैं. भारतीय एंबेसी ने बताया कि एयरक्राफ्ट से राहत साम्रगी उतारने के बाद उसी एयरक्राफ्ट पर 112 लोगों कोदिल्ली के लिए रवाना किया गया. यह एयरक्राफ्ट गुरुवार सुबह दिल्ली पहुंचा.

एयरक्राफ्ट से इन देशों के नागरिक भी पहुंचे

चीन में भारत के राजदूत विक्रम मिस्री ने ट्वीट कर बताया, ''इस एयरक्राफ्ट में 76 भारतीय समेत पड़ोसी देश के 36 नागरिक भी हैं. इनमें 23 बांग्लादेश, 6 चीन, दो-दो म्यांमार और मालदीव के लोग शामिल हैं. इसके अलावा एक-एक दक्षिण अफ्रीका, अमेरिका और मेडागास्कर के लोग भी शामिल हैं." ये 6 चीनी लोग भारतीय परिवार के संबंधी हैं. दिल्ली पहुंचे सभी लोगों को 14 दिनों तक अलग रखकर उनकी जांच की जाएगी.

ये भी पढ़ें- दिल्ली हिंसा की सुनवाई में पुलिस को फटकार लगाने वाले जज मुरलीधर का तबादला

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को 8 फरवरी को एक एक पत्र लिखा था. इसमें उन्होंने मुश्किल घड़ी में चीन के लोगों और वहां की सरकार के साथ एकजुटता व्यक्त की थी और राहत सामग्री भेजने की पेशकश की थी.

चीन में कोरोना से 2715 लोगों की मौत

चीन में कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है. करोना से चीन में अब तक 2,715 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि करीब 78 हजार से ज्यादा लोग अब भी कोरोना से संक्रमित हैं. चीन के वुहान से शुरू हुआ कोरोना का कहर दुनिया भर में फैलता जा रहा है. दुनिया के कई देशों में कोरोना पीड़ितों की मौत होने लगी है. चीन के बाहर ईरान में कोरोना तेजी से अपना पैर पसार रहा है. ईरान के उप स्वास्थ्य मंत्री भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें