scorecardresearch
 

ISIS के खतरे को लेकर 12 राज्यों के DGP के साथ गृहमंत्री राजनाथ सिंह की बैठक खत्म

जम्मू कश्मीर में पिछले पांच हफ्तों से लगातार आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (ISIS) का झंडा लहराए जाने के मामले को केंद्रीय गृह मंत्रालय गंभीरता से ले रहा है. देश के कई राज्यों में आईएसआईएस के पनपते नेटवर्क का खुलासा होने के बाद सरकार इसे रोकने की कोशिश में जुट गई है.

X
राजनाथ सिंह, गृहमंत्री (फाइल फोटो) राजनाथ सिंह, गृहमंत्री (फाइल फोटो)

जम्मू कश्मीर में पिछले पांच हफ्तों से लगातार आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (ISIS) का झंडा लहराए जाने के मामले को केंद्रीय गृह मंत्रालय गंभीरता से ले रहा है. शनिवार दोपहर इस मसले पर हुई उच्चस्तरीय बैठक में आतंकी संगठन के बढ़ते खतरे पर चर्चा हुई.

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह शनिवार को 12 राज्यों के DGP के साथ इस मामले पर बैठक की. इस बैठक में आईएसआईएस के झंडे लहराए जाने की घटनाओं के अलावा कई अन्य मुद्दों पर गंभीरता से चर्चा हुई. साथ ही ऐसी घटनाएं रोकने की रणनीति भी बातचीत हुई. बैठक में और किन मुद्दों पर चर्चा हुई इसे लेकर आधिकारिक बयान अभी तक जारी नहीं किया गया है.

बता दें कि गुजरात समेत देश के कई राज्यों में इस्लामिक स्टेट का नेटवर्क फैल रहा है. पुलिस ने शक के आधार पर अब तक करीब 70 लोगों पर नजर रखना शुरू किया है. कहा जा रहा है कि युवाओं को पैसे का लालच देकर आतंकी उन्हें ISIS में शामिल होने के लिए उकसा रहे हैं.

बैठक में जम्मू-कश्मीर, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, महाराष्ट्र, केरल, असम, पंजाब और पश्चिम बंगाल राज्य के डीजीपी के अलावा दिल्ली पुलिस के कमिश्नर भी मौजूद थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें