scorecardresearch
 

गीता का 'बजरंगी भाईजान' को पैगाम- तुमसे मिलने की तमन्ना है...

पाकिस्तान में बैठी गीता 26 अक्टूबर को हिंदुस्तान आने वाली है. 11 साल बाद. लेकिन उसकी तमन्ना है कि वह भारत पहुंचने पर सबसे पहले 'बजरंगी भाईजान' से मिले. गीता ने इंदौर की मूक-बधिर बच्चियों से बातचीत में सलमान खान से मिलने की तमन्ना जाहिर की.

X

पाकिस्तान में बैठी गीता 26 अक्टूबर को हिंदुस्तान आने वाली है. 11 साल बाद. लेकिन उसकी तमन्ना है कि वह भारत पहुंचने पर सबसे पहले 'बजरंगी भाईजान' से मिले. गीता ने इंदौर की मूक-बधिर बच्चियों से बातचीत में सलमान खान से मिलने की तमन्ना जाहिर की.

गीता से इंदौर के आनंद मूक-बधिर संस्थान की बच्चियों ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बात की. संस्थान के संचालक ज्ञानेंद्र पुरोहित ने भी गीता से बात की.

हजारों ख्वाहिशें ऐसी...
बात-बात में गीता ने अपनी ख्वाहिशें भी बताईं. कहा कि वह बजरंगी भाईजान अपनी जुबान में देखना चाहती है. गीता बोल-सुन नहीं सकती. इसलिए ज्ञानेंद्र ने उससे वादा किया कि वह इस फिल्म को साइन लैंग्वेंज में ट्रांसलेट कराएंगे. इससे पहले 'तारे जमीं पर' को भी वह लाइन लैंग्वेज में ट्रांसलेट करा चुके हैं.

बच्चियों से की अपनी भाषा में बात
गीता ने बच्चियों से संकेतों में ही बात की. अपने परिवार की तस्वीर भी दिखाई. अपने संकेतों की जुबान में बोली- मैं 26 तारीख को हिंदुस्तान आ रही हूं .

सरहद के दोनों ओर तैयारियां पूरी
गीता के लौटने की तारीख शनिवार को ही तय हुई. इसके लिए पाकिस्तान और भारत दोनों ओर सारी प्रक्रियाएं पूरी कर ली गई हैं. गीता के बिहार में सहरसा स्थिति गांव में भी जश्न का माहौल है. गीता के साथ पाकिस्तान की सामाजिक कार्यकर्ता बिलकिस ईदी भी आ रही हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें