scorecardresearch
 

राहुल गांधी राजनीति में ऐसे आए जैसे बत्तख पानी में आती है, सीबीएसई बुक में चापलूसी से भरा पाठ

ट्विटर पर सीबीएसई बोर्ड की एक इंग्लिश टेक्स्टबुक ‘टुगेदर विद इंग्लिश’ की तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें कांग्रेस नेता राहुल गांधी की तारीफ से भरा पैसेज और फिर उससे जुड़े सवाल नजर आ रहे हैं. बच्चों को इंग्लिश सिखाने के मकसद से तैयार इस पैसेज में राहुल और गांधी परिवार के दूसरे सदस्यों की चाटुकारिता के अंदाज में तारीफ की गई है.

राहुल गांधी के बारे में पैसेज राहुल गांधी के बारे में पैसेज

ट्विटर पर सीबीएसई बोर्ड की एक इंग्लिश टेक्स्टबुक ‘टुगेदर विद इंग्लिश’ की तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें कांग्रेस नेता राहुल गांधी की तारीफ से भरा पैसेज और फिर उससे जुड़े सवाल नजर आ रहे हैं. बच्चों को इंग्लिश सिखाने के मकसद से तैयार इस पैसेज में राहुल और गांधी परिवार के दूसरे सदस्यों की चाटुकारिता के अंदाज में तारीफ की गई है और फिर कुछ ऐसे सवाल पूछे गए हैं कि राहुल गांधी ने किस तरह से देश को चमत्कृत किया. हालांकि चमत्कार की छोड़िए, देश के लोग इस तस्वीर को देखकर जो कमेंट कर रहे हैं, उससे कांग्रेस की छीछालेदर होती नजर आ रही है.

सबसे पहलें पढ़ें मैसूर में पढ़ाई जा रही पांचवीं क्‍लास की उस इंग्लिश किताब के पैसेज का हिंदी अनुवाद, जिसमें राग राहुल अलापा गया है.

करिश्मे से चौंकाया देश को

‘भारत के सबसे इज्जतदार, प्रभावशाली और करिश्मे से भरपूर परिवार की पांचवी पीढ़ी के हिस्से राहुल गांधी अपनी बहन की तरह सार्वजनिक जीवन में बहुत स्वाभाविक हैं. चमक दमक से दूर रहने वाले राहुल ने अपनी ऊर्जा, विनम्रता और करिश्मे से पूरे देश को तब चौंका दिया, जब उन्होंने राजनीति में प्रवेश किया और कांग्रेस के टिकट पर अमेठी सीट से चुनाव जीते. कई संशयवादी लोग सोच रहे थे कि यह युवा आदमी जिसने अपनी जिंदगी का ज्यादातर हिस्सा ब्रिटेन और अमेरिका में गुजारा, कैसे भारतीय राजनीति के ऊबड़ खाबड़ रास्तों पर चलेगा. मगर राहुल गांधी राजनीति में उसी सहजता से उतरे, जैसे बत्तख पानी में उतरती है. उन्होंने राजनीति में प्रभावित करने वाला यकीन और गंभीरता दिखाई है. आज वह निश्चित ही कांग्रेस के युवा राजनेताओं की पंक्ति का मजबूत हिस्सा हैं.’

सवालों के जवाब देकर बताओ कितने महान

पैसेज के बाद बच्चों से उनका ज्ञान जानने के लिए ये सवाल भी पूछे गए हैं.

- राहुल की किससे तुलना की गई है

- उन्होंने किस तरह देश को चौंकाया

- राहुल किस तरह के व्यक्ति हैं

- संशयवादियों को किस चीज पर आश्चर्य हुआ

दूसरे सवाल में भी पूछी तारीफ

चापलूसी का ये दौर यहीं नहीं रुकता. किताब में अगला सवाल रिक्त स्थान भरो की तर्ज पर है, जिसमें सबसे ऊपर राहुल गांधी का नाम लिखा है और उसके बाद पांच खाली जगह छोड़ी गई हैं, जिसमें राहुल के पैसेज में बताए गुणों को लिखना है. इन गुणों के बारे में बच्चों को संकेत देने के लिए पहले स्थान पर एनर्जेटिक यानी ऊर्जा से भरपूर लिखा गया है.

ट्विटर पर हो रही है थूथू

इस तस्वीर के साथ कमेंट भी भरपूर अटैच हो रहे हैं. मसलन, अश्विनी नाम के एक ट्विटर यूजर लिखते हैं कि कसम से अगर मोदी और उसके गुंडे कट्टर नहीं होते, तो मैं एक झटके में बीजेपी को सपोर्ट करने लगता क्योंकि ये कांग्रेस के सनकी लोगों को देखकर मुझे उबकाई आती है. एक दूसरे यूजर कृपाकर लिखते हैं कि इस तरह की चीजों से बच्चों का दिमाग प्रदूषित किया जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें