scorecardresearch
 

ब्लू कॉर्नर नोटिस पर ललित मोदी के वकील और ED में ठनी, नोटिस भेजेगा निदेशालय!

सियासी गलियारे में इस वक्त ललित मोदी और सुषमा स्वराज पर कोहराम मचा हुआ है. ललित मोदी ने मामले में पहली बार अपने वकील महमूद आब्दी की जुबानी अपना पक्ष रखा है. मुंबई में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उनके वकील ने कहा कि आईपीएल में सुनंदा पुष्कर की हिस्सेदारी का खुलासा करने के बाद से ही ललित मोदी को राजनीतिक निशाना बनाया जा रहा है.

ललित मोदी के वकील महमूद आब्दी ललित मोदी के वकील महमूद आब्दी

सियासी गलियारे में इस वक्त ललित मोदी और सुषमा स्वराज पर कोहराम मचा हुआ है. ललित मोदी ने मामले में पहली बार अपने वकील महमूद आब्दी की जुबानी अपना पक्ष रखा है. मुंबई में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उनके वकील ने कहा कि आईपीएल में सुनंदा पुष्कर की हिस्सेदारी का खुलासा करने के बाद से ही ललित मोदी को राजनीतिक निशाना बनाया जा रहा है.

मुंबई में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान आब्दी ने कहा कि उनके मुवक्कि‍ल के खि‍लाफ कोई ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी नहीं किया गया है. जबकि इसके ठीक बाद प्रवर्तन निदेशालय ने सफाई दी है. ED ने कहा कि वह किसी आदमी को नोटिस नहीं भेजता, लिहाजा एयरपोर्ट को ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था और यह नोटिस 2012 में देशभर के एयरपोर्ट को भेजा गया था.

सूत्रों के मुताबिक, प्रवर्तन निदेशालय ललित मोदी पर शिकंजा कसने की तैयारी में है. ललित मोदी समेत कई दूसरे अधिकारियों को 1700 करोड़ के विदेशी मुद्रा कानून उल्लंघन के सोलह मामलों में जल्द नोटिस भेजने की तैयारी की जा रही है. निदेशालय के एक अधि‍कारी ने कहा, 'सब केस को मिलाकर करीब 1700 करोड़ के आसपास हो जाएगा. लेकिन इसमें ललित मोदी के साथ ही दूसरे कई अधि‍कारी भी होंगे. ये सभी शुरुआत से जांच के दायरे में थे. यह सब पहले से तय था. ऐसा नहीं है कि ये कदम अचानक से उठाया गया है.'

दिखाई इंटरपोल की चिट्ठी
ललित मोदी के वकील महमूद आब्दी के मुताबिक उनके मुवक्कि‍ल के खिलाफ ऐसा कोई आरोप ही नहीं. अपने पक्ष को रखने के लिए उन्होंने इंटरपोल की एक चिट्ठी जारी की है. आब्दी का दावा है कि जब से मोदी भारत से गए हैं तभी से लगातार वे ईडी और पुलिस के संपर्क में हैं और उन्हें भगोड़ा घोषित करने की कोई जरूरत ही नहीं थी.

भगोड़ा नहीं हैं ललित मोदी
आब्दी ने कहा कि कभी भी भारत की किसी भी कोर्ट ने ललित मोदी को भगोड़ा घोषित नहीं किया है. वह लंदन में पूरे नियम कानून के तहत रह रहे हैं और तमाम पार्टियां इस मुद्दे का जबरन राजनीतिकरण कर रही हैं. उन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस से लेकर किसी भी पुलिस ने कभी भी मोदी को भगोड़ा नहीं बताया है.

वकील ने कहा कि मीडिया हमेशा से ही ललित मोदी पर हमलावर रहा है. मीडिया का एक वर्ग हमेशा से मोदी पर निशाना साधता रहा है. उन्होंने मीडिया पर मोदी की पत्नी के ठीक होने का दावा करने पर भी सवाल उठाया और कहा कि क्या मीडिया के पास उनकी पत्नी के इलाज से संबंधित पुख्ता जानकारी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें