scorecardresearch
 

सेना भवन की रखी गई नींव, 7.5 लाख वर्ग मीटर में बनेगा नया मुख्यालय

7.5 लाख वर्ग मीटर में बनने वाले थल सेना भवन से सारे सैन्य एक्शन पर नजर रखी जा सकेगी. माना जा रहा है कि पांच साल में ये भवन बनकर तैयार होगा.

नए थल सेना भवन का शिलान्यास करते राजनाथ सिंह (फोटो-PTI) नए थल सेना भवन का शिलान्यास करते राजनाथ सिंह (फोटो-PTI)

  • सेना भवन में बनेंगे 6014 ऑफिस
  • राजनाथ सिंह ने किया शिलान्यास

दिल्ली में सेना के नए भवन का आज भूमि पूजन हुआ. खुद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मौजूद थे. पूजा पाठ के साथ उस भवन की नींव रखी गई, जहां भारतीय सेना का मुख्यालय बनेगा. 7.5 लाख वर्ग मीटर में बनने वाले इस भवन से सारे सैन्य एक्शन पर नजर रखी जा सकेगी. माना जा रहा है कि पांच साल में ये भवन बनकर तैयार होगा.

इस दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि ये सेना भवन इतिहास में गुम हो गए सैनिकों का प्रतिनिधित्व करेगा. इन सैनिकों की ख्वाहिश थी, भारत सक्षम और सशक्त बने. हमारे अंदर बड़ी से बड़ी चुनौतियों का सामना करने की ताकत है.भारत दुनिया के ताकतवर देशों की कतार में खड़ा हो गया है. इसका श्रेय बहादुर जवानों को जाता है. भवन की आवश्यकता कई सालों से थी.

सभी धर्मगुरुओं ने किया शिलान्यास

सेना भवन मुख्यालय के शिलान्यास के मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि महाशिवरात्रि के अवसर पर सेना भवन मुख्यालय का शिलान्यास हो रहा है. आज शिलान्यास के मौके पर सभी धर्मों के धर्मगुरू यहां मौजूद हैं. हमारे प्रमुख धर्मों के धर्मगुरूओं ने अपने-अपने तरीके से शिलान्यास कराया.

क्यों बनाया जा रहा है नया भवन

दरअसल, मोदी सरकार ने नए सेंट्रल-विस्टा प्लान के तहत साउथ ब्लॉक को म्यूजियम में तब्दील किया जाना है. इस वजह से साउथ ब्लॉक स्थित (थल) सेना प्रमुख और दूसरे अहम डायरेक्ट्रेट्स को खाली करना होगा. इसलिए अब सेना के लिए नया मुख्यालय बनाने की तैयारी है. इसके अलावा थल सेना कई सालों से बड़े मुख्यालय की मांग कर रहा थी.

सेना भवन में बनेंगे 6014 ऑफिस

7.5 लाख वर्ग मीटर में बनने वाले इस सेना भवन में 6014 ऑफिस होंगे, जिसमें 1684 सैन्य और असैनिक अधिकारियों के लिए  और 4330 उप-कर्मचारियों के होंगे. इससे युवाओं के लिए रोजगार का मौका मिलेगा. यह प्रस्तावित भवन 5 साल में बनकर तैयार होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें