scorecardresearch
 

जाफराबाद के बाद दिल्ली के चांदबाग में भी सड़क बंद, CAA के खिलाफ उतरे लोग

Jafrabad protest जाफराबाद महिलाओं के प्रदर्शन को देखते हुए इलाके में महिला पुलिसकर्मियों सहित बड़ी संख्या में सुरक्षा बल को तैनात किया गया है. जाफराबाद में ऐसे समय में प्रदर्शन शुरु हुआ है जब शाहीन बाग में सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों ने एक सड़क को खोल दिया है. शाहीन बाग में सड़क खुलवाने के लिए सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्त वार्ताकार लगातार कोशिश कर रहे हैं.

Jafrabad protest: जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के बाहर प्रदर्शन करती महिलाएं (फोटो- आजतक) Jafrabad protest: जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के बाहर प्रदर्शन करती महिलाएं (फोटो- आजतक)

  • जाफराबाद मेट्रो के नीचे आधी रात को पहुंचीं मुस्लिम महिलाएं
  • मौजपुर और यमुना विहार जाने वाली सड़क को किया गया बंद
  • चांद बाग में सड़क जाम, वजीराबाद रोड भी किया गया ब्लॉक

दिल्ली में शाहीन बाग के बाद चांद बाग और जाफराबाद में भी प्रदर्शनकारियों ने CAA के खिलाफ सड़क बंद कर दी है. जाफराबाद में मेट्रो स्टेशन के पास आधी रात के वक्त बड़ी संख्या में महिलाएं पहुंच गईं और सड़क को जाम कर दिया. ये महिलाएं CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं. इस सड़क के बंद होने की वजह से यहां से मौजपुर और यमुना विहार जाने वाला रास्ता बंद हो गया है. इधर चांद बाग में भी प्रदर्शनकारियों ने वजीराबाद रोड को ब्लॉक कर दिया है.

Live updates:

- सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के चलते शाहीन बाग-कालिंदी कुंज-सरिता विहार रोड, वजीराबाद-चांद बाग रोड और मौजपुर-जाफराबाद रोड बंद हो गया है.

- बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने दिल्ली पुलिस को अल्टीमेटम दिया है कि अमेरिकी डोनाल्ड ट्रंप के जाने तक हम शांति से जा रहे हैं. इस दौरान सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों से जाफराबाद और चांद बाग की सड़कें खाली करवाइए, इसके बाद हमें मत समझाइएगा. हम आपकी भी नहीं सुनेंगे. अब सिर्फ तीन दिन हैं.

- जाफराबाद के बाद चांद बाग में प्रदर्शनकारियों ने वजीराबाद रोड भी ब्लॉक कर दिया है. सिग्नेचर ब्रिज वजीराबाद से हिंडन एयरबेस जाने वाले रोड पर प्रदर्शनकारी बैठ गए हैं. प्रदर्शनकारियों ने भजनपुरा चौराहे से थोड़ा आगे यमुना विहार के सामने मेन वजीराबाद रोड बंद किया है. हालांकि हिंडन से वजीराबाद जाने वाला रोड खुला है.

- जाफराबाद में बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है. समाचार एजेंसी एएनआई की ओर से जारी वीडियो में यहां पैरा मिलिट्री फोर्स के जवानों को तैनात किया गया है.

- जाफराबाद में महिला पुलिसकर्मियों को भी तैनात कर दिया गया है. इस बीच पुलिस ने प्रदर्शनकारियों द्वारा बनाए गए एक छोटे से मंच को तोड़ दिया है. प्रदर्शनकारियों ने मेज से एक छोटा मंच बना रखा था.

- जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे CAA के खिलाफ प्रदर्शन की वजह से मेट्रो स्टेशन को बंद कर दिया गया है. अब लोग इस मेट्रो स्टेशन से मेट्रो की सेवाएं नहीं ले पाएंगे. यहां पर मेट्रो गेट के दरवाजे बंद कर दिए गए हैं.

आधी रात को आई प्रदर्शनकारी महिलाएं

रिपोर्ट के मुताबिक आधी रात को प्रदर्शनकारी महिलाएं सीलमपुर रेड लाइट से जाफराबाद मेट्रो स्टेशन की ओर कूच कीं और जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे सड़क पर बैठ गईं. प्रदर्शन में बड़ी तादाद में बुर्का पहनीं औरतें शामिल हैं. इन्होंने कैंडल जलाया और CAA के खिलाफ नारेबाजी की. हालांकि रात बढ़ने के साथ भीड़ कम होती गई और पुलिस की संख्या भी कम हो गई.

हाथ में तिरंगा, CAA के खिलाफ नारेबाजी

प्रदर्शनकारियों के सड़क पर बैठने की वजह से इधर से लोगों की आवाजाही बंद हो गई है. प्रदर्शनकारी महिलाओं ने रोड नंबर 66 जाम कर रखा है, ये सड़क सीलमपुर को मौजपुर और यमुना विहार से जोड़ती है. विरोध में शामिल महिलाओं ने बताया कि शाहीन बाग की तरह वे भी CAA और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन करेंगी. हाथ में तिरंगा लिए महिलाओं ने आजादी के नारे लगाते हुए कहा कि वे तब तक प्रदर्शनस्थल से नहीं हटेंगी जब तक कि केंद्र सरकार सीएए को रद्द नहीं कर देती है.

पढ़ें- अमूल्या को मारने के लिए 10 लाख का इनाम घोषित, PAK के समर्थन में लगाया था नारा

बांहों पर नीला बैंड और जय भीम का नारा

प्रदर्शन में शामिल कई महिलाओं ने अपनी बांह पर नीला बैंड लगा रखा था और जय भीम का नारा लगा रही थीं. बता दें कि संविधान निर्माता बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर के अनुनायी नीली पोशाक और नीला झंड़ा लगाते हैं

zafrabad_022320082517.jpgजाफराबाद में प्रदर्शन कर रही महिलाएं (फोटो-पीटीआई)

प्रदर्शनस्थल पर सुरक्षा बढ़ाई गई

महिलाओं के प्रदर्शन को देखते हुए इलाके में महिला पुलिसकर्मियों सहित बड़ी संख्या में सुरक्षा बल को तैनात किया गया है. जाफराबाद में ऐसे समय में प्रदर्शन शुरू हुआ है जब शाहीन बाग में सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों ने एक सड़क को खाली कर दिया है. शाहीन बाग में सड़क खुलवाने के लिए सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्त वार्ताकार लगातार कोशिश कर रहे हैं.

पढ़ें- दिल्लीः जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास CAA के खिलाफ महिलाओं का प्रदर्शन

सीलमपुर में प्रदर्शन के दौरान भड़की थी हिंसा

बता दें कि सीलमपुर में  CAA के खिलाफ पहले भी हिंसा हो चुकी है. यहां CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों ने गाड़ियां जला दी थी और कई स्थानों पर तोड़ फोड़ की थी. सीलमपुर में CAA के खिलाफ एक प्रदर्शन पहले से ही चल रहा है. यहां भी हरदम प्रदर्शनकारियों की मौजूदगी रहती है. अब जाफराबाद में ये नया प्रदर्शन शुरू हो गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें