scorecardresearch
 

भारतीय सीमा के पास पाकिस्तानी सैनिकों को ट्रेनिंग दे रहा चीन

चीन की सेना पाकिस्तान के सैनिकों को जम्मू-कश्मीर के पार भारतीय सीमा के पास ट्रेनिंग दे रही है. देश की सुरक्षा एजेंसियों ने एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी है. बीएसएफ की खुफिया शाखा ने यह रिपोर्ट तैयार की है.

X
भारत-पाकिस्तान सीमा की फाइल फोटो भारत-पाकिस्तान सीमा की फाइल फोटो

चीन की सेना पाकिस्तान के सैनिकों को जम्मू-कश्मीर के पार भारतीय सीमा के पास ट्रेनिंग दे रही है. देश की सुरक्षा एजेंसियों ने एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी है. बीएसएफ की खुफिया शाखा ने यह रिपोर्ट तैयार की है.

रिपोर्ट के अनुसार, चीन की सेना पाकिस्तान के सैनिकों को हथियार संभालने और चलाने की ट्रेनिंग दे रही है. यह ट्रेनिंग राजौरी सेक्टर के पास अंतर्राष्ट्रीय सीमा के उस पार अग्रिम रक्षा चौकियों पर हो रही ही है. यहां आम तौर पर सीमा रक्षक दल तैनात होते हैं.

बीएसएफ द्वारा किए गए शुरुआती विश्लेषण के अनुसार, श्रीगंगानगर सेक्टर के पास भी पाकिस्तानी रेंजर्स की जगह सैनिक गए हैं. इसके अनुसार, पंजाब के अबोहर और गुरदासपुर सेक्टर के पार पाकिस्तान ने नई निगरानी चौकियां कायम कर ली हैं. सीमा पार से पकड़े गए फोन संदेश बताते हैं कि भारतीय सैनिकों को निशाना बनाने के लिए पाकिस्तान स्नाइपर्स और शार्प शूटर तैनात करने की सोच रहा है.

अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर कुछ खास जगहों पर पाकिस्तान सेना के कमांडो के विशेष दस्ते भी तैनात हो रहे हैं जो छापा मार सकते हैं और बार्डर एक्शन टीम भारतीय इलाके में हमला कर सकती है.

खुफिया शाखा का यह भी कहना है कि पाकिस्तान के सियालकोट में आतंकवादियों के एक बहुत बड़े गुट का पता चला है जो जम्मू कश्मीर में विधानसभा चुनाव के दौरान घुसपैठ करने की साजिश रच रहे हैं. उसे अंतरराष्ट्रीय सीमा या फिर नियंत्रण रेखा के समीप आतंकवादियों के लिए घुसपैठ के लिए कुछ लॉन्च पैड का पता चला.

रिपोर्ट के अनुसार भारत पाकिस्तानी सीमा पिछले कुछ समय से शांत लेकिन तनावपूर्ण है. पिछले कुछ महीने में वहां कई बार सीजफायर उल्लंघन की घटनाएं सामने आई हैं.

बीएसएफ की यह शाखा कहती है कि गुजरात के समीप सर क्रीक क्षेत्र में भारत पाकिस्तान सीमा के पास करीब 25 भारतीय नौकाओं और 155 मछुआरों को इस सीजन में पाकिस्तान के समुद्री प्रशासन ने पकड़ा था.
(भाषा से इनपुट)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें